कहीं ये फैशन आपको बीमार तो नहीं बना रहा?

 

fashion

ऐसी हिदायतें दी जाती रही हैं कि फैशनेबल पहनावा आपके उठने- बैठने और चलने पर असर डालने के साथ-साथ पीठ और गर्दन में दर्दका कारण बन सकता है। ब्रिटिश का इरोप्रैक्टिक एसोसिएशन (बीसीए) के अनुसार, बेहद टाइटयानी स्किनी जींस, हाई हील्स और हैंड बैग हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं। हालांकि चार्टर्ड सोसाइटी ऑफ फिजियोथेरेपी और अन्य विशेष ज्ञोंद्वारा इस आशंका को खारिज भी किया जाता रहा है। यहां उन पांच पहनावों के बारे में बात हो रही है, जो बीसीए के अनुसार हमें नुकसान पहुंचा सकते हैं। 

स्किनी जींस : बीसीए का दावाहै कि स्किनी जींस हमारी कार्यशीलता को कम कर देती है। इसके अनुसार, 'ऐसे पहनावे आपके जोड़ों पर दबाव पैदा करते हैं और इससे छलांग लगाने की क्षमता और चहल कदमी के दौरान झटके सहन करने की प्राकृतिक शक्ति कम हो सकती है।' 

बड़े बैग : बीसीए कादावाहै कि भारी बैग, महिलाओं में पीठ के दर्द का सबसे मुख्य कारण है। इसके अनुसार, हमें कोहनी में फंसा कर बैग लेकर चलने से बचना चाहिए क्योंकि इसके भार से उस कंधे पर अधिक जोर पड़ताहै और वो दूसरे की तुलनामें झुक जाताहै। 

बड़े हुड वाले कोट : बीसीए कादावा है किसिर पर बड़े आकार के फर वाले गरम कोट पहनने से बचनाचाहिए क्योंकिआस-पास देखने के दौरान इससे गर्दन पर जोर पड़ता है। 

हाई हील्स: बीसीए कादावाहै किहाई हील्स हमें शरीर को एक खास स्थिति में रखने को मजबूर करता है जिससे रीढ़ की हड्डी में तनाव पैदा होता है। 

बैकलेस जूत : बीसीए कादावाहै कि ऐसी चप्पलें जिनके पीछे का हिस्सा खुला होता है यानी एड़ीकी ओर सपोर्ट नहीं होताहै, उनसे पैरों और गर्दन के नीचे तनाव पैदा होता है। बीसीए की हिदायत है कि जरूरत से ज्यादा बड़ी बांह, भारी भरकम ज्वैलरी और टेढ़े-मेढ़े किनारे वाले वस्त्रभी पहनने वालों के लिए समस्या पैदाकर सकते हैं।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget