समृद्धि महामार्ग की तारीफ से हुई खुशी: फड़नवीस

मुख्यमंत्री को समझ में आया एक्सप्रेस वे का महत्व

Fadanvis

मुंबई

पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि मुझे खुशी है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को नागपुर-मुंबई समृद्धि महामार्ग का महत्व समझ में आया है। उन्होंने कहा कि मुझे समाधान है कि मुख्यमंत्री ने हिंदू हृदय सम्राट बाला साहेब ठाकरे महाराष्ट्र समृद्धि महामार्ग के कामों की तारीफ की है। रविवार को फड़नवीस ने भारतरत्न डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर दादर स्थित चैत्यभूमि जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

पत्रकारों से बातचीत में फड़नवीस ने कहा कि मुझे खुशी है कि मुख्यमंत्री समृद्धि महामार्ग के निर्माण कामों को देखने अमरावती और औरंगाबाद में गए थे। उन्हें इस परियोजना का विजन समझ में आ गया है कि महामार्ग से किस प्रकार से महाराष्ट्र बदल सकता है। इस परियोजना से पिछड़े क्षेत्र विदर्भ, मराठवाड़ा और उत्तर महाराष्ट्र को मुंबई से छोड़कर महाराष्ट्र की समृद्धि हो सकती है। फड़नवीस ने कहा कि यह सच है कि पूर्व की भाजपा सरकार में सहयोगी रही शिवसेना के पक्ष प्रमुख उद्धव ने बड़े पैमाने पर विरोध किया था, लेकिन उसके बाद मैंने शिवसेना नेता तथा वर्तमान नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे के साथ चर्चा की थी। उसके बाद हम दोनों लोगों ने उद्धव ठाकरे को समझाया था। फड़नवीस ने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने समृद्धि महामार्ग का सपना देखा था। समृद्धि महामार्ग राज्य को बदल सकता है।

बाबासाहेब का किया अभिवादन

भारत रत्न डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के 64वें महापरिनिर्वाण दिवस पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने दादर स्थित चैत्यभूमि पर जाकर डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर के स्मारक पर माल्यार्पण कर उनका अभिवादन किया। इस अवसर पर फड़नवीस के साथ विधान परिषद में नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर, मुंबई भाजपा अध्यक्ष और विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा, विधायक कालीदास कोलंबकर समेत कई अन्य नेता उपस्थित थे।

पीएम के प्रयास से हुआ स्मारक का रास्ता साफ

डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर का अभिवादन करने के बाद विपक्ष के नेता फड़नवीस ने कहा कि दादर स्थित इंदु मिल की जमीन पर बाबासाहेब आंबेडकर के स्मारक के निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से सभी आवश्यक अनुमति मिली है। पिछले कई वर्षो से इंदु मिल की जगह को स्मारक के लिए स्थानांतरित नहीं किया गया था, लेकिन केंद्र में एनडीए की सरकार बनने के बाद पीएम मोदी के प्रयास से यह संभव हो पाया।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget