पांव के बीच ताकिया लगाकर सोने के फायदे


अच्छी नींद के लिए बहुत आवश्यक है किआपके सोने का तरीका सही हो। सोने का तरीका कुछ इस प्रकार हो कि शरीर के किसी भी अंग पर किसी तरह का दबाव न पड़े। यदि रात में दोनों पैरों के बीच तकिया लगाकर किसी एक करवट सोने की आदत आप डाल लेंगे तो फिर अच्छी नींद की भी आदत आपको हो ही जाएगी। इस तरह से सोने से न सिर्फ अच्छी नींद आती है बल्कि कई  कई सारी शारीरिक समस्याएं भीदूर हो जाती हैं। 

मांसपेशियों में नहीं उठता दर्द

यदि आप अच्छी नींद नहीं सो पाते हैं, दिमाग में प्रतिपल कोई चिंता बनी रहती है तो दोनों पैरों के बीच तकिये को लगाकर सोएं। दोनों घुटनों के बीच तकिये को लगाने से घुटने एकदूसरे से टकराते नहीं हैं। शरीर का पॉश्चर सही रहता है जिससे कि मांसपेशियों में खिंचाव नहीं रहता है। यदि मांसपेशियों में पहले से खिंचाव महसूस हो रहा है तो इस तरह से सोएं, सुबह तक सारा दर्द दूर हो जाएगा। 

गर्भवती महिलाओं के लिए है आदर्शतरीका 

गर्भावस्थामें लंबे समय तक किसी एक स्थितिमें सो पाना बहुत मुश्किल होता है। पैरों के बीच तकिया लगाकर किसी एक ओर करवट लेकर सोने से रीढ़की हड्डीपर जोर कम पड़ता है। जिससे कि गर्भावस्थामें आरामदायक नींद आती है और इससे कोई नुकसान भी नहीं होता है क्योंकिशरीर के किसी भी हिस्सेपर भार नहीं पड़ता है। 

कमर और रीढ़ की हड्डीके दर्दसे निजात 

हमारी रीढ़ की हड्डी एक जैसी लम्बी-पूरी नहीं होती है, उसमें थोड़ा घुमाव होता है। आजकल की भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण कई सारे लोग कमर और रीढ़के दर्दसे परेशान रहते हैं। इसलिए बहुत जरूरी है किजब आप सोएं तो तकिये को दोनों पैरों के बीच रखकर एक करवट पर सोएं। ऐसा करने से कमर और रीढ़की हड्डीपर जोर नहीं पड़ेगा। शरीर को  आराम मिलेगा। 

रक्तसंचार में होता है सुधार 

कई बार जब हम सोते हैं, तो रक्तसंचार रुकजाता है, उसके पीछे कारण यह होता है कि कई बार हमारे सोने का तरीका ऐसा होता है कि जिस मुख्यनस से रक्तह्रदय तक जाता है उस पर जोर पड़ता है और रक्तसंचार में बाधा उत्पन्न हो जाती है। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget