खड़े होकर पानी पीने से शरीर में आते हैं ये परिवर्तन

 


जल ही जीवन है। बिनाजल के मनुष्यजीवितनहीं रह सकता। हमारे शरीर का 70% भाग जल से बनाहै । हर व्यक्ति को प्रतिदिन 2 से 3 लीटर पानी पीनाचाहिए जिससे किशरीर स्वस्थ और निरोग रह सके। जल के माध्यम से ही हमारे शरीर के हानिकारक तत्वमल मूत्र के जरिए बाहर निकलते हैं। 

  •   शरीरको स्वस्थ रखने के लिए अधिक मात्रा में पानी पीना बहुत ही आवश्यक है । अगर हम खड़े होकर पानी पीते हैं तो यह हमारे पाचन तंत्र के लिए हानिकारक सिद्ध हो सकता है । इससे हृदय और किडनी संबंधित समस्याएं उत्पन्न हो सकती है । 
  •   अगर आप को खड़े होकर पानी पीने की आदत है तो यह आदत तो आज ही सुधारें । इस आदत से पानी गुर्दों सेबिना साफहु ए शरीर में पहुंच जाएंगे जिसकी वजह सेपानी में मौजूद हानिकारक पदार्थ आपके पूरे शरीर में फैल सकते हैं । यह आपके स्वास्थ्य परविपरीत प्रभावडाल सकते हैं । 
  •   खड़ेहोकर पानी पीनेवाले व्यक्तियों में एसिडिटी, गैस, कब्ज आदि की समस्याएं अधिक देखने को मिलती हैं । पाचन तंत्रको सुचारू रूप सेचलानेके लिए तथा पाचन संबंधी समस्याओं सेबचने के लिए जमीन पर बैठकर घुट घुट करके पानी पिएं । 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget