राज्य में अघोषित आपातकाल: फड़नवीस

सरकार की आलोचना करने वाले को जेल द्य सरकारी चाय का विपक्ष ने किया बहिष्कार

fadanvis

मुंबई

राज्य में अघोषित आपातकाल का माहौल है, सरकार के खिलाफ बोलने वाले लोगों को जेल में डाल दिया जा रहा है। राज्य में मोर्चा-आंदोलन निकालने की अनुमति है, लेकिन शीतकालीन सत्र दो सप्ताह का आयोजित नहीं किया जा सकता है, सरकार पर यह तीखा आरोप पूर्व मुख्यमंत्री एवं विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस ने लगाया है। उन्होंने कहा कि अभिनेत्री कंगना रानौत और पत्रकार अर्नब गोस्वामी मामले में न्यायालय से मिली फटकार के बाद भी सरकार के रवैये में कोई बदलाव नहीं हुआ है। शीतकालीन सत्र की पूर्व संध्या पर सरकार द्वारा आयोजित चाय पार्टी का विपक्ष ने बहिष्कार किया।

सोमवार से शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र की पूर्व संध्या पर भाजपा प्रदेश कार्यालय में फड़नवीस ने कहा कि राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार की आलोचना करने वाले लोगों को धमकियां दी जा रही है। उनके खिलाफ किसी न किसी मामले में झूठा मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। अर्णब गोस्वामी मामले में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला और कंगना रनौत मामले में बंबई हाईकोर्ट का फैसला, दोनों ही सरकार के लिए नसीहत देने वाले हैं। हम अर्नब गोस्वामी और कंगना के सभी विचारों से सहमत नहीं हैं, लेकिन जिस तरह से दुर्भावना से कार्रवाई की गई और अदालत ने दोनों मामलों में फैसला सुनाया, उसके बाद सरकार के पास मुंह छिपाने के लिए कोई जगह नहीं है। फड़नवीस ने कहा कि सरकार सुधरने के बजाय सत्ता का अहंकार दिखा रही है। सोमवार से शुरू होने वाले शीतकालीन सत्र पर विपक्ष नेता ने कहा कि इस सत्र में जो भी समय मिलेगा, विपक्ष नेता के कारण मैं जनता से जुड़े हर मुद्दों पर सरकार से जवाब मांगूगा। दो दिन का शीतकालीन सत्र बुलाने पर सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए फड़नवीस ने कहा कि रविवार को राकांपा के मुखिया शरद पवार का जन्मदिन था, जिसे बड़ी धूमधाम से मनाया गया। राज्य में अनेक मुद्दों को लेकर जब रैलियां आयोजित की जा रही है, तो क्या एक या दो सप्ताह के लिए सत्र नहीं बुलाया जा सकता था। कृषि कानून पर फड़नवीस ने कहा कि कानून का विरोध करने वालों से मैं पूछना चाहता हूं कि जब कृषि विधेयक राज्यसभा में गया तो केवल विपक्षी दलों ने नारेबाजी की थी, अब जब कानून पारित हो गया है तो विरोध करने का मतलब क्या है। इस अवसर पर विधान परिषद में नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल सहित अन्य कई सदस्य मौजूद थे।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget