1.15 लाख करोड़ का रिकॉर्ड GST कलेक्शन

लगातार तीसरे महीने एक लाख करोड़ के पार


नई दिल्ली

भारतीय अर्थव्यवस्था अब पटरी पर नजर आ रही है। जीएसटी कलेक्शन लगातार तीसरे महीने एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा। वित्त मंत्रालय के जारी आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर 2020 में जीएसटी कलेक्शन 1,15,174 रुपये रहा। माल एवं सेवा कर (GST) संग्रह का आंकड़ा अक्टूबर में 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा था। फरवरी के बाद पहली बार जीएसटी संग्रह का आंकड़ा अक्टूबर में एक लाख करोड़ रुपये के पार गया और  नवंबर में लगातार दूसरे महीने यह आंकड़ा एक लाख करोड़ के पार रहा। वहीं दिसंबर में भी यह आंकड़ा एक लाख करोड़ के पार रहा।

इस वित्त वर्ष में इतना रहा कलेक्शन

वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि दिसंबर 2020 में सकल जीएसटी राजस्व 1,15,174 करोड़ रुपये रहा, और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के बाद किसी भी महीने के मुकाबले यह सबसे अधिक है।  बयान में कहा गया, ‘’यह पिछले 21 महीनों में सबसे अधिक मासिक राजस्व वृद्धि है। यह महामारी के बाद तेज आर्थिक सुधार और जीएसटी चोरी और फर्जी बिल के खिलाफ चलाए गए देशव्यापी अभियान, और व्यवस्थागत बदलावों के चलते संभव हुआ।  नवंबर से 31 दिसंबर तक कुल 87 लाख जीएसटीआर-3बी रिटर्न दाखिल किए गए। 

समीक्षाधीन महीने में आयातित वस्तुओं से राजस्व 27 प्रतिशत बढ़ा और घरेलू लेनदेन (आयात सेवाओं सहित) से राजस्व इससे पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले आठ प्रतिशत अधिक रहा।   जीएसटी राजस्व में सुधार के हालिया रुझानों के अनुरूप राजस्व संग्रह ने लगातार तीसरे महीने एक लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार किया। दिसंबर 2020 में कुल राजस्व संग्रह दिसंबर 2019 के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक था। दिसंबर में केंद्रीय जीएसटी संग्रह 21,365 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी संग्रह 27,804 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी 57,426 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर एकत्र 27,050 करोड़ रुपये सहित) और उपकर 8,550 करोड़ रुपये (आयात पर एकत्र 971 करोड़ रुपये सहित) रहा।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget