15 जनवरी के बाद बंद होंगे जंबो कोविड सेंटर

नए स्ट्रेन से मनपा की वेट एंड वॉच की भूमिका

Jumbo covid center

मुंबई

कोरोना मरीजों की संख्या में गिरावट के बावजूद कोविड सेंटर और जंबो कोविड सेंटर बंद करने का निर्णय 15 जनवरी के बाद लिया जायेगा। मनपा के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने बताया कि ब्रिटेन से आए नए कोरोना स्ट्रेन के कारण मनपा कोविड सेंटरों को अभी बंद करने के बारे में 'वेट एंड वॉच' की भूमिका में रहेगी, जिससे यदि मरीज बढ़ते हैं तो बेड की कमी महसून न हो। मनपा ने स्पष्ट किया है कि दस जनवरी तक मरीजों की समीक्षा के बाद जंबो कोविड केंद्र के बारे में निर्णय लिया जाएगा। 

उल्लेखनीय है कि वर्तमान में जंबो कोविड केयर सेंटर में मरीजों की संख्या घट रही है। कुछ कोविड सेंटरों में तो एक भी मरीज नहीं है फिर भी स्टॉफ पर खर्च किया जा रहा है। कोविड सेंटर बंद करने में समय नहीं लगेगा लेकिन मरीज बढ़ने पर दोबारा कोविड सेंटर खड़ा करना अब तक हुए कुल खर्च के जितना हो जायेगा। मरीजों की समीक्षा के बाद ही कोविड सेंटरों को बंद करने का निर्णय लिया जाएगा। वर्तमान में भायखला, बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स, नेस्को मैदान (गोरेगांव), मुलुंड और दहिसर में पांच जंबो कोविड केयर सेंटर हैं।

महालक्ष्मी कोविड केअर सेंटर के सामान्य वार्ड को बंद कर दिया गया है। लेकिन आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधाओं को स्टैंडबाई मोड पर रखा गया है। सभी जंबो सुविधाएं अभी भी काम कर रही हैं। छोटी सुविधाओं वाले केंद्रों में कार्यरत मानव बल को बड़ी सुविधाओं वाले केंद्रों में समाहित किया जा रहा है। इसके अलावा छोटे केंद्रों को स्थायी रूप से बंद नहीं किया जा रहा है। आवश्यकता पड़ने पर उन्हें फिर से खोला जा सकता है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget