सीएसएमटी स्टेशन के पुनर्विकास के लिए 1642 करोड़

मुंबई

करीब 170 साल पहले, देश में पहली रेलगाड़ी चलने का गवाह बने मुंबई के ऐतिहासिक छत्रपति शिवाजी टर्मिनल के कायाकल्प करने में कई कंपनियों ने उत्सुकता दिखाई है। अडाणी ग्रुप ने मुंबई सीएसएमटी स्टेशन के पुनिर्विकास के लिए 1,642 करोड़ रूपये की बोली लगाई है। अडाणी समूह सहित 10 कंपनियों ने 1,642 करोड़ रुपए की परियोजना के तहत छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए रूचि दिखाई है।  रेलवे द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार सीएसएमटी रेलवे स्टेशन यूनेस्को प्रमाणित वैश्विक विरासत सूची में शामिल है। भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम (आईआरएसडीसी) के अनुसार इस रेलवे स्टेशन का विकास चार साल में विभिन्न चरणों में किया जाएगा।

जीएमआर एंटरप्राइजेज, आईएसक्यू एशिया इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट्स, कल्पतरू पावर ट्रांसमिशन, एंकरेज इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट होल्डिंग्स तथा अडाणी रेलवेज ट्रांसपोर्ट ने परियोजना के लिए पात्रता के लिए आग्रह (आरएफओ) जमा कराया है। जिन और पांच कंपनियों ने परियोजना के लिए आरएफक्यू जमा कराया है, उनमें ब्रुकफील्ड इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड, मॉर्बियस होल्डिंग्स, गोदरेज प्रॉपर्टीज, कीस्टोन रियल्टर्स और ओबेरॉय रियल्टी शामिल हैं। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget