अभिनंदन 2021

आज नव वर्ष की पहली सुबह है. 2020 का यह साल  कोरोना महामारी और सीमा पर तनातनी के साथ  बीता. तो आइये इसे नए सवेरे का स्वागत करते हुए यह संकल्प लें के हम ऐसा कुछ नहीं करेंगे जिससे हम कोरोना के चपेट में आयें या कोरोना के प्रसार का कारण बने. देश और राज्य सरकारों के कुशल प्रबंधन और समय की मांग के मुताबिक़ की गयी कार्रवाईयों ने हमारे यहां महामारी का असर वैसा नहीं होने दिया, जैसा कि आज तक दुनिया के  सर्वाधिक विकसित राष्ट्र झेल रहे हैं, हमारे यहां महामारी  तेजी से काबू में आ रही है. मृत्यूदर दुनिया की तुलना में  काफी कम है.भगवान की कृपा और सरकारों, अधिकारियों और कोरोना योद्धाओं की मेहनत का परिणाम है िक हमने  हमारे देश में महामारी के असर को लेकर विश्व स्वास्थ्य  संगठन जैसों की भविष्य वाणी को असत्य साबित कर  दिया  है. स्थिती रोज सुधर रही है, लेकिन इससे स्थिती सही हो गयी  है और हम निश्चिंत हो जाएं ऐसा कुछ नहीं है. इंग्लैंड में मिले नए स्ट्रेन और उससे संक्रमित कुछ लोग हमारे यहां भी मिलने से चिंता बढ़ी है. कारण वह पुराने वायरस से ज्यादा या यू कहें कई गुना ज्यादा संक्रामक है,  इसलिए हर कदम पर सावधानी आवश्यक ही नहीं अनिवार्य है .अब कोरोना से लड़ाई अंतिम चरण में है ज़रा सी लापरवाही स्थित को अनियत्रित कर सकती है. इसका ध्यान हर व्यक्ति को रखना  होगा. जैसा कि प्रधानमंत्री ने कहा है कि वैक्सीन की तैयारी आख़िरी चरण में  है, जब तक  वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक किसी भी व्यक्ति द्वारा किसी भी तरह की ढिलाई नहीं बरती जानी चाहिये.कोरोना से बचे रहने के लिए जो भी मापदंड और निर्देश जारी किये  गये  हैं, उसका  तंतोतंत पालन करना चाहिए. तो आइये नववष की इस बेला पर संकल्प लें, ऐसा कुछ ना करने का जिससे देश के किसी भी कोने में दुबारा कड़ा कदम उठाने की नौबत आये. रही बात सीमा की तो हमारे  जवान रोज पाकी हिमाकतों का कड़ा जबाब दे रहे  हैं और चीन की भी मजबूत घेराबन्दी की जा चुकी है और उसे हमारे इलाके से वापस जान ही होगा यह संकल्प देश और देश की सरकार और सेना के हर अंगों का हर जवान  ले चुका है. कोरोना और सीमा पर तनातनी के अलावा भी अन्य कई कारणों से बीता साल अविस्मरणीय रहेगा. राम जन्मभूमि -बाबरी मस्जिद विवाद समाप्त हुआ और अयोध्या में भव्य राम मन्दिर बनाने  का शुभारम्भ  हो चुका है, मस्जिद का भी काम शुरू होने को है, जम्मू-कश्मिर  में भी डीडीसी चुनाव के साथ एक नए अध्याय की शुरूवात हो चुकी है. वहां  आतंकवाद दम तोड़ चुका है और बचे खुचे आतंकी रोज चुन चुन कर मारे जा रहे  हैं, पाक परस्त ताकतें और नेता रोज बेनकाब हो रहे हैं. वहां की जनता बदलाव का स्वागत कर रही है, इससे यह विश्वास लगातार मजबूत हो रहा है की धरती का स्वर्ग एकबार फिर अपनी पुरानी आभा के साथ गुलजार होगा. देश की अर्थव्यवस्था कोरोंना के कहर से उबर रही है. 2020 देश में  मानवीय और प्राकृतिक तमाम चुनौतियों के बीच एक नयी आशा का संचार करके विदा हुआ है देश और दुनिया से सारे संकेत इस तरह आ रहे है कि देश की अर्थ व्यवस्था अब फिर तेजी से आगे  बढ़ेगी. तो आइये 2020 को अलविदा कहते हुए नए वर्ष का नए उत्साह से स्वागत करें और तन मन धन से अपने अपने कार्य के जुटें लेकिन उन सावधानियों को लेकर कोई लापरवाही न बरतें जो कोरोना को बढ़ाने में कोई भूमिका निभा सकती है इसी में सबका और देश भला है. हमने अब तक पूरे संयम, अनुशासन और जागरूकता के साथ इस महामारी का मुकाबला किया है आगे भी वैसी ही करना है अब लड़ाई ज्यादा लंबी नहीं चलेगी. तो कोरोना योद्धाओं और देश के जांबाज जवानों को सलाम करते हुए नववर्ष का स्वागत करें. अभिनंदन 2021.


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget