ब्लास्ट में 8 मजदूरों की मौत


बेंगलुरु

मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के होमटाउन शिवमोगा में गुरुवार रात 10.20 बजे डायनामाइट ब्लास्ट हुआ। इसमें 8 मजदूरों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री ने मामले की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। पुलिस और अधिकारियों की टीम घटनास्थल हुनासोडू गांव पहुंची। पुलिस के मुताबिक, पत्थरों को तोड़ने के लिए विस्फोटक यानी जिलेटिन की छड़ें ले जाई जा रही थीं, तभी शिवमोगा के अब्बलगेरे गांव के पास ब्लास्ट हो गया। धमाका इतना तेज था कि शिवमोगा के नजदीकी जिले चिकमंगलूर तक इसकी आवाज सुनाई दी। कुछ लोगों का दावा है कि एक के बाद एक 50 डायनामाइट ब्लास्ट हुए। धमाके की वजह से आसपास के घरों के शीशे टूट गए। लोगों को लगा कि भूकंप आया, इसलिए लोग घबराहट में घरों से बाहर आ गए। विस्फोटक की गंध भी 8-10 किमी तक महसूस की गई। शिवमोगा के विधायक अशोक नाइक ने बताया कि हर जगह धुआं ही धुआं था। कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था। शिवमोगा के डिप्टी कमिश्नर केबी शिवकुमार ने बताया कि पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई है। घटनास्थल पर और विस्फोटक होने की आशंका है। शिवमोगा हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया पर लिखा, ‘लोगों के जान गंवाने को लेकर दुखी हूं। उनके परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना करता हूं। हादसे से प्रभावित हुए लोगों को राज्य सरकार जल्द मदद पहुंचाएगी।’


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget