रूपेश मर्डर केस को लेकर पूछे गए सवाल पर भड़के सीएम

पटना

इंडिगो स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या को लेकर सीएम नीतीश ने शुक्रवार को कहा कि दोषियों को जल्द पकड़ा जाएगा। एक-एक चीज की जांच चल रही है। मुझे पुलिस पर पूरा भरोसा है। सीएम ने यह भी कहा कि बिहार अपराध के मामले में देश में 23वें नंबर पर है। जो अपराध करते हैं, उन्हें निश्चित रूप से पकड़ा जाता है। पत्रकारों ने बिहार में अपराध से जुड़े सीएम नीतीश से एक के बाद एक कई सवाल किए। इस पर सीएम ने कहा कि आप जंगलराज को भूल गए क्या? 

मुख्यमंत्री ने राजद पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वर्ष 2005 के पहले पति-पत्नी की राज में काफी हिंसा और अपराध होते थे। नीतीश ने पत्रकारों से कहा कि उन्हें अगर किसी अपराध की जानकारी मिलती है तो डीजीपी को बताएं। इसपर पत्रकारों ने कहा कि डीजीपी साहब फोन नहीं उठाते हैं। रूपेश सिंह हत्याकांड के चौथे दिन भी पुलिस के हाथ खाली हैं। वारदात को अंजाम देने वाले न तो एक भी शूटर पकड़े जा सके हैं और न ही हत्या के पीछे रहा अहम कारण ही स्पष्ट हो सका है। जांच व शूटरों की गिरफ्तारी में जुटी एसटीएफ और एसआईटी सिर्फ छापेमारी, कॉल डिटेल, व्हाट्सएप मैसेज, टावर डंप, सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालने के साथ ही अलग-अलग जगहों से शक के आधार पर उठाए गए 15 से अधिक संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर को बीते मंगलवार की शाम 7 बजकर 15 मिनट पर गोलियों से भून दिया गया था। इस वारदात को लेकर पुलिस अफसरों की नींद उड़ गई है। गुरुवार की शाम सवा सात बजे तक घटना को हुए कुल 48 घंटे बीत गए, लेकिन पुलिस का कोई अधिकारी कुछ बोलने की स्थिति में नहीं था। शास्त्रीनगर थानेदार से लेकर एसएसपी तक का यही कहना था कि जांच की जा रही है। अभी न तो शूटर चिह्नित हो सके हैं और न ही हत्या के पीछे रहे कारण का सटीक क्लू ही मिल सका है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget