दिल्ली ब्लास्ट का ईरानी कनेक्शन !

delhi blast

नई दिल्ली

राजधानी दिल्ली में इजरायली दूतावास के पास हुए धमाके में दिल्ली पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों की जांच जारी है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल विस्फोट के सिलसिले में राष्ट्रीय राजधानी में रह रहे कुछ ईरानियों से पूछताछ कर रही है। दिल्ली पुलिस के सूत्रों का कहना है कि जिन विदेशी नागरिकों से पूछताछ की जा रही है, उनमें वे भी शामिल हैं, जिनके वीजा समाप्त हो चुके हैं। बता दें कि दूतावास के बाहर से जहां ब्लास्ट हुआ था वहां से पुलिस को गुलाबी रंग का एक दुपट्टा मिला है। दुपट्टे का क्या रहस्य है, इसका पता लगाया जा रहा है। ये वो गुलाबी दुपट्टा है जो ब्लास्ट वाली जगह पर आधा जला हुआ मिला है। लेकिन इसके रहस्य से पर्दा उठना अभी बाकी है।

पुलिस को मिला घटनास्थल पर एक नोट

पुलिस ने बताया कि इजरायल के दूतावास के नाम से लिखा एक नोट भी घटनास्थल पर पाया गया है। सूत्रों के मुताबिक इस नोट में धमकी दी गई है और कहा गया है कि यह ट्रेलर है। सूत्रों के अनुसार विस्फोट का लिंक ईरान से जुड़ रहा है। इजरायल पहले ही इसे आतंकवादी हमला करार दे चुका है। भारत सरकार भी इस मामले में गंभीर नज़र आ रही है।

हमले से हम हैरान नहीं : इजरायली राजदूत

भारत में इजरायल के राजदूत रॉन मलका ने कहा कि उनके पास यह मानने के लिए पर्याप्त कारण हैं कि यह एक आतंकवादी हमला था, लेकिन वे इस हमले को लेकर हैरान नहीं हैं क्योंकि पिछले कुछ सप्ताह से सतर्कता काफी बढ़ाई हुई थी। उन्होंने कहा, ‘‘ ये हमले क्षेत्र (पश्चिम एशिया) में विध्वंस करने की साजिश है, जो हमें भयभीत नहीं कर सकते या रोक नहीं सकते, हमारे शांति प्रयास जारी रहेंगे। ’’उन्होंने कहा कि इजरायल के अधिकारी हमले की जांच कर रहे भारतीय अधिकारियों को सभी सहायता, जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

जैश उल हिंद ने ली जिम्मेदारी

धमाके की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश उल हिंद ने ली है। मैसेजिंग एप टेलीग्राम के मैसेज के जरिए कथित तौर पर घटना की पुष्टि का दावा किया जा रहा है। मैसेज में कहा गया है, 'सर्वशक्तिमान अल्लाह की कृपा और मदद से, जैश उल हिंद के सैनिक दिल्ली के एक उच्च सुरक्षा वाले इलाके में घुसपैठ करने और आईईडी धमाके को अंजाम दे पाए। यह हमलों की श्रृंखला की एक शुरुआत है जो प्रमुख भारतीय शहरों को निशाना बनाएगा।'


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget