‘पहले पांच साल में सिर्फ वोट मांगने आते थे अमेठी के सांसद’

 रायबरेली

महिला एवं बाल कल्याण केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गुरुवार को अमेठी संसदीय क्षेत्र का दौरा किया। लखनऊ से सड़क मार्ग होते हुए परशदेपुर पहुंचीं स्मृति ने स्वर भारती विद्यालय में लोक निर्माण विभाग द्वारा बनने वाली 6.46 करोड़ की सड़कों और पुल का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने राहुल गांधी का नाम लिए बगैर तंज कसा कि पहले यहां के सांसद सिर्फ चुनाव में वोट मांगने आते थे। इस कारण वर्षों से सांसद से वंचित अमेठी, वर्षों से सांसद संपर्क से वंचित सलोन विधानसभा भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओ के कर कमलों के द्वारा निरंतर सेवा को प्राप्त करेगी। इस संकल्प को फलीभूत होते देख जनता जनार्दन ने मुझे 2019 में दीदी से सांसद बनाया। आज आप सबके सम्मुख आपके स्नेह देने के लिए आपके चरणों में प्रणाम करने के लिए आपका आभार व्यक्त करते हैं।

  सांसद ने आगे कहा कि साल 2014 में मुझे याद है जब मैं आपके मध्य में आई तो संघर्षों से भरा सलोन विधानसभा त्राहिमाम कर रहा था। बहनों को सामर्थ बनाने का कोई साधन मिले। परिवारों को सिर ढकने के लिए छत मिले। नवजवानों को शिक्षा का साधन मिले और सलोन विधानसभा का नागरिक प्रगति के पद पर नई उम्मीदों के साथ देश के साथ और अमेठी जनपद के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चले। उसी श्रंंखला में आज जब आपके मध्य में आई हूं तो मुझे इस बात का गौरव होता है कि प्रधानमंत्री ने डेढ़ साल में यहां की बहनों को जीवन में पहली बार 30 हजार 800 से ज़्यादा गैस सिलिंडर मुहैया कराया। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget