बिहार में भी मचा 'तांडव' पर घमासान

पटना

अमेज़न प्राइम पर वेब सीरीज 'तांडव' को लेकर बिहार के मुजफ्फरपुर सीजेएम कोर्ट में एक परिवाद दाखिल किया गया है। अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा की ओर से दायर परिवाद में 96 लोगों को आरोपित बनाया गया है। शिकायतकर्ता सुधीर कुमार ओझा ने कहा है कि इस वेब सीरिज में धार्मिक भावनाओं को आहत करने और जाति आधारित भेदभाव फैलाने वाले कई दृश्य हैं। बता दें कि अभिनेता सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्मांशु धूलिया जैसे दिग्गज कलाकारों की चर्चित वेब सीरीज 'तांडव' रिलीज होते ही विवादों में घिर गई है। वेब सीरीज में कई अशोभनीय बातों और प्रधानमंत्री के गरिमामय पद को ग्रहण करने वाले व्यक्ति का चित्रण खराब तरीके से करने के मामले में डायरेक्टर अली अब्बास जफर, निर्देशक हिमांशु कृष्ण मेहरा, लेखक गौरव सोलंकी और अमेजन प्राइम की ओरिजनल कंटेन्ट इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित के खिलाफ रविवार देर रात एफआईआर दर्ज कराई गई है। 

यह एफआईआर लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली के सब इंस्पेक्टर अमरनाथ यादव की तहरीर पर लिखी गई है। जेपी नेता समेत कई संगठनों की ओर से उठे बैन करने की मांग के बीच सूचना प्रसारण मंत्रालय ने अमेजन प्राइम वीडियो के अधिकारियों का तलब किया है। मंत्रालय ने अमेजन प्राइम वीडियो से जवाब देने के लिए कहा है। मंत्रालय के एक सूत्र ने कहा, 'मंत्रालय ने मामले (शिकायतों) का संज्ञान लिया है और अमेजन प्राइम वीडियो से स्पष्टीकरण देने को कहा है। 

वहीं महाराष्‍ट्र के एक संासद ने भी आरोप लगाया है कि ऐसे मंचों पर अक्सर हिंदू देवी-देवताओं को गलत तरीके से दिखाने का प्रयास किया जाता है। उन्होंने कहा कि विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों ने शिकायत की है कि 'तांडव' वेब सीरीज में हिंदू देवी-देवताओं का उपहास किया गया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget