अमेरिका-तालिबान समझौते पर बाइडेन की बारीक नजर

Joe Biden

वॉशिंगटन

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन ने कहा कि वह अफगान-तालिबान समझौते की समीक्षा करेगा जिससे यह आकलन किया जा सके कि आतंकी संगठन अफगान शांति समझौते के अनुरूप हिंसा में कमी कर रहा है या नहीं। एमिली हॉर्न ने बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने अपने अफगान समकक्ष हमदुल्ला मोहिब से फोन पर बातचीत के दौरान यह रेखांकित किया कि अमेरिका एक मजबूत और क्षेत्रीय कूटनीतिक प्रयास के साथ शांति प्रक्रिया का समर्थन करेगा, ‘‘जिसका उद्देश्य दोनों पक्षों को एक टिकाऊ और उचित राजनीतिक समाधान और स्थायी युद्ध विराम हासिल करने में मदद करना होगा।” अफगान में हिंसा को कम करने और अफगान सरकार तथा अन्य हितधारकों के साथ सार्थक वार्ता में शामिल होने, आतंकवादी समूहों के साथ संबंधों में कटौती करने के लिए अपनी प्रतिबद्धताओं पर तालिबान कायम है या नहीं।” अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने पिछले फरवरी में दोहा में तालिबान के साथ शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। 

इस समझौते के तहत विद्रोही समूह से सुरक्षा की गारंटी के बदले अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी की योजना तैयार की गई है। समझौते के अनुसार अमेरिका को 14 महीने के अंदर अपने 12000 सैनिकों को अफगानिस्तान से वापस बुलाना था। वहां अब 2500 अमेरिकी सैनिक ही मौजूद हैं।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget