मिलावटी आटा सेहत न कर दे खराब, इन तीन तरीकों से करें पहचान


अब तक आपने मिठाइयों में मावा, शहद और दवाओं में मिलावट के कई किस्से सुने होंगे। पर क्या आप जानते हैं आपकी रसोई में सुबह- शाम रोटियां बनाने के लिए जो आटा इस्तेमाल किया जाता है उसमें भी मिलावट की जाती है। जो आपकी सेहत पर काफी बुरा असर डाल सकता है। गेहूं के आटे में बोरिक पाउडर, चाक पाउडर और कभी-कभी मैदा तक मिला दिया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं इस मिलावट का पता आप बड़ी आसानी से लगा सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे। 

एक गिलास पानी-

मिलावटी आटे की पहचान करने के लिए सबसे पहले एक गिलास में पानी लें। अब इस पानी में आधा चम्‍मच आटा डालें। अगर पानी में आपको कुछ तैरता हुआ नजर आने लगे तो समझ जाएं िक आटे में मिलावट की गई है। 

नींबू का रस-

इसके अलावा नींबू का उपाय भी मिलवटी आटे की पहचान करने के लिए एक कारगर उपाय है। इस उपाय में आपको एक चम्मच आटे में नींबू की कुछ बूंदें निचोड़कर डालें। नींबू के रस की बूंदों से अगर आटे में बुलबुले बनने लगे तो समझ जाएं कि आटे में मिलावटी की गई है। आटे में ये बुलबुले तब बनते हैं जब आटे में खड़िया मिट्टी की मिलावट की जाती है।  

हाइड्रोक्लोिरक एसिड -

तीसरे उपाय में आप एक टेस्‍ट ट्यूब लेकर उसमें थोड़ा सा आटा डालें। आटा डालने के बाद इसमें हाइड्रोक्‍लोरि‍क एसिड डालें। हाइड्रोक्‍लोरि‍क एसिड डालने पर अगर ट्यूब में कुछ छानने वाली चील नजर आए तो समझ जाएं कि आटे में मिलावट की गई है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget