लापरवाही बरतने वाली आंगनबाड़ी और सहायिकाओं पर कार्रवाई

लखीमपुर खीरी

केंद्रों से लगातार गायब रहने वाली आठ आंगनबाड़ी कार्यकत्री और आठ सहायिकाओं को बर्खास्त कर दिया गया है। सबसे ज्यादा बर्खास्तगी की कार्रवाई फूलबेहड़ ब्लॉक में हुई है। इस कार्रवाई के बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं में हड़कम्प मच गया है। डीपीओ ने बताया कि सभी सीडीपीओ से उन आंगनबाड़ी व सहायिकाओं की सूची मांगी गई है, जो काम नहीं कर रही हैं। जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील श्रीवास्तव ने बताया कि आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण कराया गया। कई आंगनवाड़ी केंद्र ऐसे मिले जहां पता चला कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका नहीं आती हैं। इनको नोटिस दी गई लेकिन जवाब या तो नहीं मिला और अगर मिला भी तो संतोषजनक नहीं मिला। इसके बाद इनकी सेवा समाप्त की कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि फूलबेहड़ ब्लॉक में तैनात आंगनबाड़ी कार्यकत्री श्याम दुलारी की सेवा समाप्त की गई है। इसके अलावा शहरी परियोजना में तैनात ममता गौतम, मितौली में तैनात राजेश्वरी, रामश्री की सेवा समाप्त की गई है। उन्होंने बताया कि फूलबेहड़ ब्लाक में तैनात सहायिका बीनू, किरन, लीलावती, अनुपम जायसवाल, ताहिरा, उर्मिला, ऊषा, राबिया की सेवा समाप्त कर दी गई है। इसके साथ ही फूलबेहड़ की ही आंगनबाड़ी कार्यकत्री शशिकली और सरला गोस्वामी के सेवाएं समाप्त कर दी गई है। उन्होंने बताया कि पसगवा ब्लॉक में तैनात शशिबाला और नकहा में तैनात आरती देवी की सेवाएं समाप्त कर दी गई है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि यह कार्यकत्रियां और सहायिका लंबे समय से काम नहीं कर रही थी। आंगनवाड़ी केंद्र संचालन न होने की लगातार शिकायतें मिलने पर जांच कराई गई। इसके बाद इनको नोटिस दी गई लेकिन या तो जवाब नहीं दिया या फिर जो जवाब दिया, वह संतोषजनक नहीं मिला।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget