नामकरण को लेकर एक बार फिर गरमाई सियासत

शिवसेना और कांग्रेस का एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप


मुंबइ

औरंगाबाद जिले के नामकरण को लेकर एक बार फिर राज्य की सियासत गरमा गई है। इसको लेकर महाविकास आघाड़ी सरकार की सत्ताधारी पार्टियों के बीच विवाद शुरू हो गया है। रविवार को शिवसेना प्रवक्ता और सांसद संजय राउत ने पार्टी के मुखपत्र के माध्यम से कांग्रेस पार्टी की जमकर खिचाई की। राउत ने कहा कि सेक्युलरवादी कांग्रेस पार्टी को अगर औरंगजेब पसंद है तो कोने में जाकर उसे दंडवत करना चाहिए। राउत के इस बयान के बौखलाई कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष और राज्य के राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात ने शिवसेना पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पिछले कई वर्षो से औरंगाबाद का नाम बदलने को लेकर राज्य की राजनीति में धूल उड़ाया जा रहा है। कुछ लोग है जो अपने निजी स्वार्थ के लिए नाम बदलने का मुद्दा बार-बार उठा रहे है। 

राउत के बयान के जवाब में थोरात ने तंज कसते हुए कहा कि नाम बदलने से जिले का विकास नहीं होगा। औरंगाबाद जिले के नामकरण पर कांग्रेस अपनी भूमिका स्पष्ट कर चुकी है। शिवसेना पर हमला बोलते हुए थोरात ने कहा कि राज्य और मनपा की सत्ता पर पांच साल काबिज शिवसेना ने औरंगाबाद का नामकरण क्यों नहीं किया। अब जब औरंगाबाद मनपा का चुनाव नजदीक आ रहा है तो नाम बदलने को लेकर राजनीति शुरू की जा रही है। थोरात ने शिवसेना-भाजपा से सवाल किया कि जब केंद्र और राज्य में दोनों सत्ता में थे, तो उन्होंने नाम बदलने के मुद्दे को क्यों नहीं याद किया। औरंगाबाद के विकास के बारे में बात करनी चाहिए, औरंगाबादकरों को भी यही उम्मीद है। मनपा की सत्ता में रहे दोनों ने लोगों को गुमराह किया है। ये दोनों दल नाम बदलने का मुद्दा उठाकर लोगों को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि पिछले कई दिनों से औरंगाबाद जिले का नाम संभाजीनगर रखने को लेकर राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार में शामिल तीनो पार्टियों के बीच खींचतान शुरू है। एक तरफ जहां शिवसेना नाम बदलने की बार-बार मांग कर रही है वही सरकार की मुख्य सहयोगी दल कांग्रेस और राकांपा इसका जमकर विरोध कर रही है। युवासेना प्रमुख और राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने अपने बयान में औरंगाबाद के नामकरण को लेकर कहा है कि सर्वसम्मति से जिले का नाम संभाजीनगर रखा जाएगा।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget