पैंगोंग झील में भारत अपनी स्थिति और करेगा मजबूत

pengong lake

नई दिल्ली

वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच तनाव अभी भी जारी है। लद्दाख में पैंगोंग झील क्षेत्र में अपनी उपस्थिति और तैनाती को मजबूत करने के अपने प्रयासों के लिए भारतीय सेना ने 12 नौकाओं के अधिग्रहण का अनुबंध किया है। ये नौकाएं पूरी तरह से सशस्त्र होंगी। साथ ही इसका इस्तेमाल उस क्षेत्र में और उसके आसपास गश्त और तेजी से सैनिकों की तैनाती के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। शिपको डी गामा सुविधा के साथ गोवा शिपयार्ड लिमिटेड द्वारा ये नौकाएं बनाई जा रही हैं। इसमें आगे और पीछे दोनों तरफ बंदूकें होंगी और ये सैनिकों को ले जाने में सक्षम होगी। भारतीय सेना ने बड़े जल निकायों की निगरानी और गश्त के लिए 12 फास्ट पैट्रोल नावों के लिए मेसर्स गोवा शिपयार्ड लिमिटेड के साथ एक अनुबंध किया था, जिसमें उच्च ऊंचाई वाले क्षेत्रों में शामिल थे। इनकी डिलीवरी मई 2021 से शुरू होगी। सेना के अधिकारियों ने कहा, नावों का संचालन और रखरखाव इंजीनियर्स द्वारा किया जाएगा। ये नावें ऊंचाई वाले क्षेत्रों में विशाल जल निकायों में फैली सीमाओं/नियंत्रण रेखा पर सुरक्षा सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण होंगी। उन्होंने कहा उच्च गति और युद्धाभ्यास वाली नौकाएं अत्याधुनिक जहाज पर प्रणालियों से सुसज्जित होंगी। भारत के साथ संघर्ष के शुरुआती चरण में, चीनी सैनिकों ने बड़ी संख्या में नावों का इस्तेमाल करते हुए सैनिकों को फिंगर पांच और फिंगर छह के क्षेत्रों में पहुंचाया था। भारत के पास भी वहां कई नावें तैनात हैं।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget