कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यारः जावड़ेकर

Javdekar

नई दिल्ली

कांग्रेस पार्टी ने मंगलवार को तीनों कृषि कानूनों के विरोध में एक बुकलेट जारी किया। इसका नाम दिया गया है ‘खेती का खून, तीन काले कानून’। इसे जारी करते हुए राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री 4-5 लोगों के हाथों में खेती का पूरा ढांचा दे रहे हैं। उनके इस आरोप पर भाजपा ने पलटवार किया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को खून शब्द से काफी प्यार है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यार है। मैं याद दिलाना चाहता हूं कि आप खेती का खून कह रहे हैं परन्तु आपने खून का खेल खेला, विभाजन के समय लाखों लोग मरे, क्या वो खून नहीं था?’ जावड़ेकर ने कहा, ‘आप ‘खेती का खून’ के बारे में बात कर रहे हैं, लेकिन विभाजन के दौरान रक्तपात के बारे में क्या? 1984 में दिल्ली में 3,000 सिखों को जिंदा जला दिया गया था। क्या यह खून खराबा नहीं था? ... कांग्रेस के शासन के दौरान लाखों किसानों की आत्महत्या से मृत्यु हो गई, क्या उनके शरीर में खून नहीं था?’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं राहुल गांधी से सवाल पूछ रहा हूं कि अगर आज देश का किसान गरीब रहा तो किसकी नीति से गरीब रहा? 50 साल कांग्रेस ने जो विनाशकारी नीति चलाई उसके चलते किसान गरीब रहा। उसकी उपज का कभी मूल्य नहीं दिया।’ जावड़ेकर यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस का खेल क्या है? आज किसान और सरकार के बीच 10वें राउंड की चर्चा है। कैसे भी करके उसे असफल करना है क्योंकि कांग्रेस नहीं चाहती कि किसान की समस्या का समाधान हो। किसान और सरकार की वार्ता सफल हो, ये कांग्रेस नहीं चाहती।’

राहुल गांधी के आरोप पर जावड़ेकर ने कहा कि कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि 4-5 परिवार देश पर हावी हैं। देश पर अब किसी परिवार का राज नहीं है। 125 करोड़ जनता का राज है, ये परिवर्तन हुआ है। 

50 साल कांग्रेस ने सरकार चलाई तो एक ही परिवार की सरकार चली।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget