मऊ में देर रात हत्या के नौ घंटे बाद मिला शव

मऊ

चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के असलपुर गांव में पूर्व प्रधान मुन्ना राव बागी हत्याकांड में गवाह शंभू राम के भतीजे अरविंद की मंगलवार की देर शाम गोली मारकर हुई हत्या के बाद पुलिस शव के लिए रात भर हांफती रही। इस दौरान आक्रोशित अनुसूचित बस्ती के लोग राजपूत बस्ती पर पथराव करते रहे, जबकि मौके पर आजमगढ़ जनपद के कई थानों सहित जनपद पुलिस अाैर पीएसी तैनात रही। इस दौरान आक्रोशितों का गुस्सा डायल 112 पुलिस वाहन व बाइक पर भी फूटा। आक्रोशितों ने पुलिस वाहन व बाइक को आग के हवाले कर दिया। घटना के बाद शव को पुलिस रात भर खोजती रही। घटना के नौ घंटे बाद यानी भाेर में लगभग तीन बजे पुलिस पूर्व प्रधान के घर से शव को बरामद कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस दौरान पुलिस को उग्र भीड़ के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा। बुधवार की सुबह भी गांव में चारों तरफ तनाव बना हुआ है। हालांकि गांव के चारों तरफ चप्पे-चप्पे पर पुलिस का कड़ा पहरा है। असलपुर में पूर्व प्रधान की हत्या करने वाले 25 हजार के इनामी राहुल सिंह अब पुलिस के निशाने पर है। मंगलवार की देर शाम गवाह के भतीजे की हत्या में भी राहुल का नाम सामने आने पर पुलिस सख्त हो गई है। बुधवार को भारी मात्रा में पुलिस असलपुर को रवाना हाे गई है। ऐसा माना जा रहा है कि बुधवार को इनामी राहुल के मकान को जमींदोज कर दिया जाएगा। असलपुर हत्याकांड पर राजनीति का साय पड़ता दिख रहा है। मृतक अरविंद राव को लेकर जहां भीम आर्मी गांव की तरफ कूच कर रही है तो आक्रोशित भीड़ का शिकार हुए घायल कैलाश सिंह को लेकर करणी सेना आमन-सामने आ गई है। इसको लेकर पुलिस अलर्ट हो गई है। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर गांव में पहुंचे पुलिस अधीक्षक सुशील घुले को भी आक्रोशितों का सामना करना पड़ा। उग्र भीड़ ने पुलिस अधीक्षक को घेरकर पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget