शरत सक्सेना का खुलासा

sharat saxena

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता शरत सक्सेना के साल 2018 के एक इंटरव्यू की छोटी सी क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वीडियो में शरत बता रहे हैं कि वह बॉलीवुड में 30 साल से टाइपकास्ट हो रहे थे और ऐसा इसलिए हो रहा था, क्योंकि वो फिट दिखते थे। इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि उनकी फिट बॉडी और गठे हुए शरीर के कारण, किसी भी निर्देशक ने उन्हें कभी अभिनेता नहीं माना। उन्होंने हमेशा एक फाइटर या जूनियर आर्टिस्ट की भूमिका दी। शरत ने बताया कि उन दिनों हमारे देश में जिनके पास अच्छी बॉडी थी या कोई व्यक्ति जो बॉडी बिल्डर की तरह दिखता था, उस व्यक्ति को इसी तरह के रोल दिए जाते थे और उन्हें हीरो बनने योग्य नहीं माना जाता था। वहीं उन्होंने इंटरव्यू में कहा कि मेरे पिता इलाहाबाद विश्वविद्यालय में एथलीट हुआ करते थे। हम उससे प्रेरित हुए और अपने शरीर पर काम किया। दुर्भाग्य से जब मैं मुंबई आया तो मैं काफी फिट था और जब प्रोड्यूसर्स और डायरेक्टर्स मुझे देखते थे, तो उन्होंने कभी अभिनेता नहीं देखा, बल्कि केवल एक फाइटर और एक जूनियर कलाकार ही देखा। इसलिए 30 सालों तक मैं केवल जूनियर कलाकारों का काम किया, जब अभिनय की बात आई, तो मुझे, यस बॉस, नो बॉस, मुझे माफ कर दीजिए बॉस जैसे डायलॉग ही बोलने को मिले। आपको बता दें कि शरत इंजीनियर थे लेकिन अभिनेता बनना चाहते थे। 

उन्होंने अपने कैरियर के शुरुआती दिनों में इंडस्ट्री में खलनायक के गुर्गे के रूप में दर्जनों फिल्मों में काम किया। उन्होंने महाभारत में कीचक का किरदार निभाया है। लेकिन बाद में उन्होंने साथिया, बागवान, फिर हेराफेरी जैसी फिल्मों में अभिनय भी किया। वहीं सोशल मीडिया पर लोगों को शरत का ये इंटरव्यू इंडस्ट्री में उनके संघर्षों से वाकिफ करा रहा है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget