भारत से दोस्त नहीं, प्रतिद्वंद्वी की तरह व्यवहार करें

ब्रिटिश PM को थिंक टैंक ने चेताया! 


नई दिल्ली

भारत  और ब्रिटेन भले ही अपने द्विपक्षीय संबंधों को और ज्यादा मजबूती देने की कोशिश में लगे हैं, लेकिन एक ब्रिटिश थिंक टैंक ने बोरिस जॉनसन को चेताया है कि भारत के साथ प्रतिद्वंद्वी की तरह व्यवहार करना चाहिए। 

चैंथम हाउस-रॉयल इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल अफेयर्स द्वारा तैयार की गई 'ग्लोबल ब्रिटेन, ग्लोबल ब्रोकर' नाम की रिपोर्ट में भारत के वैश्विक महत्व को स्वीकार किया गया है। रिपोर्ट में माना गया है कि ब्रिटेन के लिए भारत 'बेहद जरूरी' है। इसके लिए भारत की आबादी, अर्थव्यवस्था और रक्षा बजट को आधार बनाया गया है, लेकिन रिपोर्ट यह भी साफ करती है कि ब्रिटेन को भारत को एक प्रतिद्वंद्वी के तौर पर देखना होगा न कि एक सहयोगी के तौर पर। रिपोर्ट में भारत को चीन, सऊदी अरब और तुर्की के साथ 'डिफिकल्ट 4' की कैटगरी में रखा गया है। इसके साथ ही बोरिस जॉनसन सरकार को भारत के साथ संबंधों को प्रगाढ़ता देने के दौरान ज्यादा रियलिस्टिक होने की ताकीद की गई है। रिपोर्ट कहती है-वो भले ही व्यावसायिक हितों के आधार पर महत्वपूर्ण हो सकते हैं, लेकिन वैश्विक लक्ष्यों के आधार पर कई मामलों में प्रतिद्वंद्वी भी साबित हो सकते हैं।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget