सीरम में आग, पांच की मौत

कोरोना वैक्सीन सुरक्षित    मृतकों के परिजनों को 25-25 लाख मुआवजा   

Serum

पुणे

देशभर में कोवीशील्ड कोरोना वैक्सीन मुहैया करा रहे सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के पुणे स्थित प्लांट में गुरुवार को बड़ा हादसा हो गया। दोपहर 3 बजे प्लांट की इमारत में आग लग गई। आग को दमकल की 15 गाड़ियों की मदद से डेढ़ घंटे बाद बुझाया जा सका। बाद में जब रेस्क्यू टीम अंदर पहुंची तो पांच लोगों की लाश मिली। ये सभी मजदूर थे। शाम करीब सवा सात बजे यहां दोबारा आग लग गई, जिसे बुझाने की कोशिशें जारी हैं। रेस्क्यू टीम नौ लोगों को बचाने में कामयाब रही। SII के पुणे प्लांट में ही कोरोना से बचाव के लिए ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोवीशील्ड वैक्सीन बनाई जाती है। माना जा रहा है कि यहां शॉर्ट सर्किट या वेल्डिंग की वजह से हादसा हुआ। जिस जगह आग लगी, उसे सीरम का मंजरी प्लांट कहते हैं। यह जगह कोवीशील्ड वैक्सीन की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट से करीब एक किलोमीटर की दूरी पर है। इस वजह से कोवीशील्ड को नुकसान नहीं पहुंचा। जिस इमारत में आग लगी, वहां पर टीबी से बचाव के इस्तेमाल होने वाली BCG वैक्सीन बनती है। यहां ठेका मजदूर बिजली का काम करने आए थे। महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजीत पवार ने बताया कि सरकार ने इस हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं।

मृतकों में तीन यूपी-बिहार के, दो पुणे के

हादसे में जान गंवाने वालों में राम शंकर और बिपिन सरोज उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे। सुशील पांडेय बिहार से यहां मजदूरी करने आए थे। महेंद्र इंगले और प्रतीक पश्ते पुणे के ही रहने वाले थे। पुणे के मेयर मुरलीधर मोहोल ने बताया, ‘मजदूरों की लाशें इमारत की ऊपरी मंजिल पर मिली हैं। आग लगने की वजह अभी साफ नहीं है। जिस इमारत में आग लगी, वहां वेल्डिंग का काम चल रहा था। हादसे की वजह यह भी हो सकती है।’

वैक्सीन का प्रोडक्शन नहीं रुकेगा: पूनावाला

SII के CEO अदार पूनावाला ने हादसे के बाद कहा, ‘मैं सरकार और लोगों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि कोवीशील्ड के प्रोडक्शन को इस हादसे से कोई नुकसान नहीं हुआ है। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए हमने कई प्रोडक्शन बिल्डिंग तैयार कर रखी हैं। कोवीशील्ड का प्रोडक्शन नहीं रुकेगा। दुर्भाग्य से कुछ लोगों की जान इस हादसे में गई है, इसका हमें गहरा दुख है। हम परिजनों को 25-25 लाख रुपए की मदद देंगे।’ पुणे के पुलिस कमिश्नर अमिताभ गुप्ता ने भी इसकी पुष्टि की कि कोवीशील्ड वैक्सीन प्लांट और स्टोरेज पूरी तरह सुरक्षित हैं। कोवीशील्ड को कैम्पस के अलग हिस्से में बनाया और स्टोर किया जाता है। हाल ही में यहां से वैक्सीन की खेप देशभर में पहुंचाने का सिलसिला शुरू हुआ है।

साजिश के दावे करने वालों को सब्र के टीके की जरूरत: उद्धव

सीएम उद्धव ठाकरे शुक्रवार दोपहर इस प्लांट का दौरा करेंगे। उन्होंने पूनावाला से भी बात की। जब मीडिया ने सीएम से पूछा कि क्या आग किसी साजिश की वजह से लगी है, इस पर उन्होंने कहा- इस तरह के दावे करने वालों को सब्र के टीके की जरूरत है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी ने हादसे पर दुख जताया। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मृतकों के परिजनों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं और मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।'


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget