झोपड़ाधारकों से छुपे तौर से टैक्स लेने की तैयारी में मनपा

सुविधा लेने के नाम पर करनी पड़ेगी जेब ढीली

Slum

मुंबई

दिवालिया होती जा रही मुंबई मनपा एक बार फिर गरीब जनता पर बोझ डालने का काम करने जा रही है। मनपा अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए झोपड़ाधारकों से टैक्स वसूलने के लिए नया तरीका खोज निकाला है। मनपा प्रशासन ने झोपड़ा धारकों से टैक्स वसूलने के बजाए अब उनसे गंदी बस्ती सुधार के लिए सेवा शुल्क वसूलने का निर्णय लिया है।

मनपा सहायक आयुक्त संगीता हसनाले ने बताया कि मनपा इस योजना को लागू करने का विचार कर रही है। उल्लेखनीय है कि मुंबई में 60 प्रतिशत लोग झोपड़पट्टी में रहते हैं। मुंबई में जिन स्लम बस्तियों को झोपड़पट्टी परियोजना में घोषित कर दिया गया है, उन झोपड़ों से प्रॉपर्टी टैक्स वसूले जाने की मांग पिछले काफी दिनों से हो रही है। मनपा प्रशासन ने इस तरह का प्रस्ताव इसके पहले भी तैयार किया था, लेकिन राजनीतिक पार्टियों के विरोध के चलते इस पर निर्णय नहीं हो सका। 

मनपा प्रशासन अब प्रॉपर्टी टैक्स तक न लगाकर गंदी बस्ती सुधार योजना के तहत झोपड़ाधारकों से सेवा शुल्क लेने का निर्णय लिया है। मनपा प्रशासन आगामी बजट में इस तरह का प्रस्ताव राजनीतिक पार्टियों के सामने रखेगी। अब देखना होगा कि दिवालिया होने की राह पर पहुंची मनपा सबसे अधिक बस्तियों में रहने वाले लोगों से किसी तरह का टैक्स लेने में तैयार हो पाती है कि नहीं।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget