जांच टीम पर आरोपियों के परिजनों ने किया हमला

सिकरहना (पूर्वी चंपारण)

बिहार में यूपी के हाथरस जैसे हैवानियत वाली घटना में जांच के लिए फॉरेंसिक टीम घटनास्थल पर पहुंची। पूर्वी चंपारण(मोतिहारी) के कुंडवाचैनपुर में नेपाली गार्ड की नाबालिग बेटी की गैंगरेप के बाद हत्या मामले में तीन सदस्यीय फॉरेंसिक टीम कुंडवाचैनपुर पहुंचकर घटनास्थल पर केमिकल डाल सबूत व सैंपल इकट्ठा किया। टीम उस जगह पर भी गयी, जहां लड़की के शव को जलाया गया था। टीम ने वहां से हड्डियों के जले हुए अवशेष को साक्ष्य के लिए एकत्रित कर सुरक्षित रख लिया। फिर बारीकी से आस-पास के खेत व बागीचा का भी मुआयना किया। जांच के बाद टीम कुंडवाचैनपुर थाना पहुंची और पुलिस अधिकारियों से विचार विमर्श की। डीएसपी शिवेन्द्र कुमार अनुभवी ने बताया कि फॉरेंसिक टीम ने सैंपल इकठ्ठा किया गया है। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है। फॉरेंसिक टीम के साथ डीएसपी के अलावा प्रशिक्षु डीएसपी राजीव चन्द्र सिंह, सुनील कुमार, इंस्पेक्टर जय प्रकाश सिंह, थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार मौजूद थे। नेपाली नाइट गार्ड की नाबालिग बेटी की गैंगरेप के बाद 21 जनवरी को हत्या कर दी गई थी। घटना के बाद साक्ष्य मिटाने के लिए आनन-फानन में उसका शव जला दिया गया। घटना के बाद नाइट गार्ड अपने गांव नेपाल चला गया।  

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget