बंगाल का गौरव करेंगे बहाल: नड्डा

वीकास और 'कटमनी' संस्कृति में से एक को चुनना है


कोलकाता

पश्चिम बंगाल में ‘असोल पारिबोर्तोन’ (असली परिवर्तन) के लिए भाजपा की सरकार बनाने पर जोर देते हुए पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने तृणमूल कांग्रेस के मुख्य चुनावी मुद्दे ‘बंगाली अस्मिता’ की खामियों को उजागर करने का आह्वान और राज्य के लोगों से पूछा कि वे वकिास चाहते हैं या ‘कट मनी संस्कृति’।

भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा ने ‘लोक्खो सोनार बांग्ला (स्वर्णिम बंगाल बनाने का लक्ष्य) घोषणा पत्र क्राउडसोर्सिंग अभियान’ गुरुवार को शुरू किया। इसके तहत आगामी विधानसभा चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल में दो करोड़ से अधकि लोगों से सुझाव मांगे जाएंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि बंगाली हस्तियों एवं महिलाओं को नजरअंदाज किया गया है और ‘बंगाल का गौरव बहाल किया जाएगा।’ नड्डा ने कहा कि पार्टी के घोषणा पत्र में मतुआ समुदाय, महिलाओं एवं युवाओं के सामाजकि-आर्थकि सशक्तीकरण पर जोर दिया जाएगा और राज्य की ‘कट मनी’ और ‘सिंडकिेट’ संस्कृति को समाप्त किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘लोक्खो सोनार बांग्ला’ मुहिम तीन मार्च को शुरू की जाएगी और यह 30 मार्च तक जारी रहेगी। हमारा सभी 294 निर्वाचन क्षेत्रों के दो करोड़ से अधकि लोगों तक पहुंचने का लक्ष्य है।

नड्डा ने कार्यक्रम की शुरुआत के दौरान कहा कि 30,000 सुझाव पेटियां लगाई जाएंगी। हम सोनार बांग्ला के निर्माण की हमारी कोशिश के तहत आमजन के सुझाव प्राप्त करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का लक्ष्य पश्चिम बंगाल को वकिास के मार्ग पर ले जाना है। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget