मंत्री बनने के बाद शाहनवाज हुसैन ने लिया गुरु का आशीर्वाद

सुपौल

बिहार सरकार में मंत्री बनने के बाद पहली बार सुपौल पहुंचे शाहनवाज हुसैन ने अपने गुरु कालीचरण मिश्र के घर पहुंचकर उनसे आशीर्वाद लिया। इस दौरान शाहनवाज हुसैन ने पुराने दिनों को याद करते हुए गुरु मंत्रणा भी ली। इस मौके पर जिले के लोगों ने शाहनवाज हुसैन की जमकर तारीफ की। लोगों का कहना था  कि इतने बड़े ओहदे पर पहुंचने के बाद भी उन्होंने अपने गुरु को याद किया और उनसे मिलने के लिए आए। शाहनवाज हुसैन का जन्म 12 दिसंबर 1968 को सुपौल में हुआ था। हुसैन ने आईटीआई से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है। वो पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं। वे तीन बार लोकसभा सदस्य भी (1999, 2006, 2009) रह चुके हैं। इस वर्ष वे विधान पार्षद चुने गए हैं। उन्होंने उच्च माध्यमिक शिक्षा सुपौल के विलियम्स हाईस्कूल से प्राप्त की है। उन्होंने दिल्ली और पटना से इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया। राजनीति की शुरुआत उन्होंने 1999 में 13वें लोकसभा चुनाव से की और कम उम्र में केंद्रीय राज्यमंत्री बन गए। उन्होंने मानव संसाधन विभाग, युवा मामले और खेल, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय का प्रभार संभाला है।

बता दें कि शाहनवाज हुसैन अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्र में मंत्री बने थे। उस समय उन्हें सबसे युवा मंत्री होने का गौरव प्राप्त हुआ था। शाहनवाज हुसैन वर्ष 2014 में भागलपुर लोकसभा में चुनाव हार गए थे। 2019 में उन्हें भाजपा ने कहीं से भी टिकट नहीं दिया, लेकिन लगातार वे पार्टी के लिए कार्य करते रहे। उनकी प्रारंभिक शिक्षा विलियम्स हाईस्कूल सुपौल में हुई।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget