सरकार के खिलाफ आज साधु-संतों का आंदोलन

नाशिक

राज्य के राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार ने अभी हाल ही में साधुओं को लेकर विवादित बयान दिया है। इस मामले में भाजपा आध्‍यात्मिक समन्वय आघाड़ी के प्रदेशाध्यक्ष आचार्य तुषार भोसले ने रविवार को नाशिक में सोमवार 15 फरवरी को सुबह 10।30 बजे रामकुंड, पंचवटी में साधु संतों के नेतृत्व में शंखनाद आंदोलन करने की घोषणा की। इस मौके पर मंच पर भाजपा नाशिक महानगर अध्यक्ष गिरीश पालवे भी मौजूद थे।उन्होंने कहा कि साधुओं का अपमान करने का किसी को हक नहीं है। साधुओं के भेष में तीन-चार लोगों ने गलत काम किया, इसका मतलब यह कतई नहीं कि हिंदू समाज के पवित्र और सर्वस्व त्याग करने साधुओं को बदनाम किया जाए। ऐसा करना एक मंत्री के लिए शोभा नहीं देता। जैन साधु परंपरा का यह अपमान है और यह कांग्रेस का हिंदू विरोधी एजेंडा है।उन्होंने कहा कि हमारा सवाल मुख्यमंत्री से है कि वे हिंदुओं को यह दिन दिखाने के लिए मुख्‍यमंत्री बने हैं। 15 दिसंबर 2020 को उन्होंने विधानसभा में कहा था कि महाराष्‍ट्र साधु-संतों का है और हमने हिंदुत्‍व नहीं छोड़ा है, लेकिन आपके मंत्री साधुओं को नालायक कह रहे हैं, यह आपकी हिंदुत्‍व की व्‍याख्‍या में फिट बैठता है? उन्‍होंने कहा कि आपके सरकार के मंत्री महिलाओं पर अत्‍याचार करते हैं। शरजील जैसे विकृत प्रकृति के लोग यहां आकर हिंदुओं का अपमान करते हैं और आपके मंत्री साधुओं को भला-बुरा कहते हैं। आचार्य तुषार भोसले ने कहा कि नाशिक के रामकुंड पर साधु-संतों के नेतृत्‍व में मंत्री विजय वडेट्टीवार और उन्‍हें समर्थन करने वाली सरकार के खिलाफ सोमवार को सुबह 10:30 शंखनाद आंदोलन किया जाएगा।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget