मोटेरा में भी अहम हो सकते हैं अश्विन


अहमदाबाद

भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में खेला जाएगा। यह डे-नाइट टेस्ट पिंक बॉल से होगा। यहां की पिच को चेन्नई की तरह स्पिन गेंदबाजों के अनुकूल बताई जा रही है। यहां के रिकॉर्ड को देखें तो यहां की पिच हमेशा से स्पिन गेंदबाजों को मदद देने वाली ही रही है। यहां खेले 12 टेस्ट की बात की जाए हमारे स्पिन गेंदबाजों ने तेज गेंदबाजों के मुकाबले दोगुने विकेट लिए हैं। ऐसे में सीरीज में अब तक 17 विकेट लेकर टॉप पर चल रहे ऑफ स्पिनर आर अश्विन एक बार फिर अहम रहने वाले हैं। चार मैचों की सीरीज अभी 1-1 से बराबर है। इंग्लैंड की टीम मोटेरा स्टेडियम में भारत को टेस्ट मैच में नहीं हरा सकी है। दोनों के बीच मैदान पर दो टेस्ट खेले गए हैं। एक मैच टीम इंडिया ने जीता है। एक मैच ड्रॉ रहा है। भारतीय स्पिनर्स ने यहां खेले 12 मैचों में 32 की औसत से 123 विकेट लिए हैं। आठ बार पांच विकेट, जबकि तीन बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया है। इतना ही नहीं स्पिनर्स ने फेंके 1622 ओवर में से 400 ओवर मेडन डाले हैं। अब तक भारत के 32 स्पिनर्स यहां गेंदबाजी कर चुके हैं। अब भारतीय तेज गेंदबाजों के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो उन्होंने यहां 12 मैच में सिर्फ 59 विकेट ले सके हैं। दो बार पांच और एक बार 10 विकेट लिए हैं। यानी स्पिन गेंदबाजों से विकेट के मामले में विकेट लगभग 50 फीसदी पीछे हैं। औसत लगभग 35 का है। 26 तेज गेंदबाजों ने 737 ओवर डाले हैं और इनमें से 157 ओवर मेडन रहे हैं। यानी यहां स्पिन गेंदबाजों ने तेज गेंदबाजों के मुकाबले दोगुने ओवर भी फेंके हैं।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget