आरबीआई ने नियुक्त किया बाहरी फर्म

 एचडीएफसी बैंक की आईटी अवसंरचना की जांच के लिए

RBI

नई दिल्ली

एचडीएफसी बैंक ने मंगलवार को बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने उसकी आईटी अवसंरचना का ऑडिट करने के लिए एक बाहरी फर्म को नियुक्त किया है। देश में निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक में पिछले दो वर्षों के दौरान कई बार सेवा बाधाएं आने के बाद यह फैसला किया गया। एचडीएफसी बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि आरबीआई ने बैंकिंग नियामक कानून 1949 की धारा 30 (1-बी) के तहत बैंक की संपूर्ण आईटी अवसंरचना का विशेष लेखा परीक्षा करने के लिए एक बाहरी पेशेवर आईटी फर्म को नियुक्त किया है, जिसकी लागत बैंक वहन करेगा। पिछले महीने एचडीएफसी बैंक ने आरबीआई को बार-बार होने वाले सेवा व्यवधान का समाधान करने के लिए एक विस्तृत कार्ययोजना सौंपी थी। इस कार्ययोजना में बैंक ने कहा था कि वह तीन महीनों में अपने आईटी ढांचे को सुधार लेगा। 

एचडीएफसी बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरबीआई को दी गई कार्ययोजना पर प्रगति हो रही है और बैंक ने इसे सकारात्मक रूप में लिया है, क्योंकि इससे मानकों को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। अधिकारी ने विश्लेषकों की एक बैठक में कहा कि कार्ययोजना को लागू होने में 10-12 सप्ताह लगेंगे, और आगे की समय सीमा आरबीआई के निरीक्षण पर निर्भर करेगी तथा संतुष्ट होने पर नियामक प्रतिबंध हटा देगा। आरबीआई ने दिसंबर में एचडीएफसी बैंक को अस्थाई रूप से नई डिजिटल पहल शुरू करने और नए क्रेडिट कार्ड जारी करने से रोक दिया था। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget