न एमएसपी खत्म होगी और न ही मंडियां

कृषि बिल विरोधी आंदोलन पर बोले नकवी

mukhtar abbas naqvi

कानपुर

कृषि बिल विरोधी आंदोलन देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी चर्चा का विषय बना हुआ है। अंतर्राष्ट्रीय सेलेब्स के द्वारा किए गए ट्वीट्स ने मामले को और भी ज्यादा ज्वलंत बना दिया है। शुक्रवार को कानपुर में उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष राजू श्रीवास्तव ने प्रतिक्रिया दी थी तो वहीं, शनिवार को केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने अपना पक्ष रखा।  उन्होंने कहा कि न तो एमएसपी खत्म होगी और न ही मंडियां। उन्होंने आगे कहा कि सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से लोगों को अवगत कराया। इसके अलावा उन्होंने सर्किट हाउस में उपस्थित भाजपा नेता और कार्यकताओं को बजट की विशेषताएं भी बताईं। शनिवार को सर्किट हाउस में आयोजित वार्ता में केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि अमेरिका की किसी पॉप स्टार के ट्वीट से हमें कोई असर नहीं पड़ता। हमें अपनी ईमानदारी को सिद्ध करने के लिए किसी भी अंतर्राष्ट्रीय संस्था के प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार ने टकराव नहीं टॉक का रास्ता अपनाया है। इस बिल में ऐसा कुछ भी नहीं है जो इसे काला कहा जाए। न तो एमएसपी खत्म होगी और न ही मंडियां। भाजपा आंदोलन से आगे आने वाली पार्टी है और हम आंदोलन का सम्मान करते हैं। अन्ना हजारे और बाबा रामदेव के आंदोलन का क्या हुआ यह सभी ने देखा है। पुलिस और सुरक्षा बल भी संवेदनशील तरीके से काम कर रहे हैं। 

मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि इंटरनेट मीडिया पर बहुत सारी बातें चलती रहती हैं, लेकिन इसमें जो अच्छा लगे उसे ही चुनना चाहिए। वे बोले कि कुछ पिटे हुए पॉलिटिकल प्राणी भारत का दुष्प्रचार करने में छह वर्षों से लगे हैं। इतना ही नहीं वे लगातार भारत को असहिष्णु देश घोषित करने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं। कोरोना संकट के समय हमारे समक्ष कई चुनौतियां थीं जिनका सरकार और देशवासियों ने डटकर मुकाबला किया। साथ ही इस दौरान हमने टिड्डियों के साथ फिसड्डियों का हमला भी झेला और दोनों का बखूबी सामना किया। 



Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget