प्रेमी-प्रेमिका को परिवारवालों ने पीट-पीटकर मार डाला

संतकबीरनगर

प्रेम के त्‍योहार वेलेंटाइन डे से ठीक एक दिन पहले उत्‍तर प्रदेश के संतकबीरनगर में प्रेमी-प्रेमिका को प्रेम विवाह की सजा के तौर पर पीट-पीटकर मार डालने और फिर शव जलाकर सबूत मिटा देने की कोशिश का सनसनीखेज मामला सामने आया है। शनिवार को जिले के महुली थाना क्षेत्र के बारीडीहा गांव के पास कुआनो नदी घाट पर प्रेमी-प्रेमिका के शवों को एक साथ जलाया जा रहा था। 

पुलिस के आने की सूचना पाकर परिवारीजन अधजले शव को छोड़कर फरार हो गए। पुलिस मामले को ऑनर किलिंग का मामला मान रही है। दोनों प्रेमी युगल धनघटा क्षेत्र के मूड़ाडीहा गांव के निवासी बताए जा रहे हैं। मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए। सूचना मिलने पर धनघटा और महुली थाने के एसओ मौके पर पहुंच गए। सूचना के बाद एसपी ने मौके पर पहुंचकर जानकारी ली। 

इंस्पेक्टर रवीन्द्र कुमार गौतम के अनुसार धनघटा थाना क्षेत्र के मूड़ाडीहा गांव के सागर और कंचन के बीच काफी दिनों से प्रेम सम्‍बन्‍ध चल रहा था। शुक्रवार की शाम कंचन अपने प्रेमी के घर पहुंच गई। प्रेमी ने कंचन को सिंदूर लगाकर प्रतीकात्मक विवाह कर लिया। ग्रामीणों के अनुसार प्रेम विवाह की खबर मिलने पर रात में ही प्रेमी-प्रेमिका को परिवारीजनों ने पीट-पीटकर मार डाला। हालांकि कुछ ग्रामीण जहर खा लेने की वजह से मौत होने की बात भी कह रहे हैं। बताया जा रहा है कि शनिवार भोर में परिवारीजन शवों को लेकर महुली क्षेत्र के बारीडीहा गांव के पास जंगल में स्थित कुआनो नदी के घाट पर पहुंच गए। वे दोनों शवों को जलाने लगे। सूचना पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर जुट गए। इसी बीच किसी ने पुलिस को भी खबर कर दी। इस पर धनघटा थाने के साथ और महुली एसओ प्रदीप कुमार सिंह और एसआई राम प्रवेश यादव फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget