...तो मुंबई में लगेगा लॉकडाउन?

crowd

मुंबई

42 दिनों बाद महाराष्ट्र में एक बार फिर से कोरोना वायरस के मामलों ने रफ्तार पकड़ी है। यह बढ़ी रफ्तार डराने वाली है, क्योंकि एक बार फिर से रोज कोरोना के 3 से 4 हजार केस सामने आने लगे हैं। मुंबई के हालात बेहाल हो रहे हैं। ऐसे में अधिकारियों और सरकार की चिंता भी बढ़ रही है।  राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि लोगों ने कड़ाई से नियमों का पालन नहीं किया तो एक बार फिर से लॉकडाउन की नौबत आ सकती है। मुंबई की महापौर ने साफ कहा है कि अगर लोग मास्क नहीं लगाएंगे तो शहर में लॉकडाउन लगाना मजबूरी होगा। किशोरी पेडनेकर ने कहा कि राज्य में और मुंबई में बढ़ रहे कोरोना के मामले चिंता का विषय हैं। ट्रेनों में यात्रा करने वाले ज्यादातर लोग मास्क नहीं पहनते हैं। लोकल में बहुत भीड़ होती है, लेकिन लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं। लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए।

देश में नए स्ट्रेन की दस्तक

देश में कोरोना के ब्रिटेन वाले स्ट्रेन के बाद अब साउथ अफ्रीका और ब्राजील जैसे मामले भी सामने आने लगे हैं। हेल्थ मिनिस्ट्री ने मंगलवार को बताया कि फरवरी के पहले हफ्ते में ब्राजील वैरिएंट का एक मामला मिला था। वहीं, जनवरी में साउथ अफ्रीकी वैरिएंट के भी 4 केस सामने आए थे। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के डायरेक्टर जनरल डॉ. बलराम भार्गव ने बताया कि पुणे की लैब में वायरस को सफलतापूर्वक आइसोलेट कर दिया गया है। इस पर वैक्सीन के असर के बारे में पता लगाया जा रहा है। ये दोनों वैरिएंट ब्रिटेन वाले स्ट्रेन से अलग हैं। उन्होंने बताया कि देश में UK वैरिएंट के अब 187 मरीज हैं। सभी क्वारंटाइन में हैं और इनका इलाज किया जा रहा है। हमारे पास जो वैक्सीन उपलब्ध है, वह इस वैरिएंट पर कारगर है। वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने बताया कि UK से आने वाले सभी पैसेंजर्स का RT-PCR टेस्ट अनिवार्य है। इसी रणनीति को हमें साउथ अफ्रीका और ब्राजील से आने वाली फ्लाइट्स पर भी लागू करना चाहिए।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget