जबरन फीस वसूलने वाले स्कूलों पर कार्रवाई का आदेश

School

मुंबइ

कोरोना महामारी के कारण पिछले कई महीनों से बंद स्कूलों की पढ़ाई ऑनलाइन के माध्यम शुरू है ,कुछ स्कूलों द्वारा स्कूल बंद करने की अवधि के दौरान फीस का भुगतान न करने वाले छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा के लिए व्हाट्सएप ग्रुप से बाहर करने और पिछले सत्र के परीक्षा के अंक जारी न करने की शिकायत मिली है। जिसे गंभीरता से लेते हुए राज्य की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने सम्बंधित अधिकारियों को उन स्कूलों की तत्काल जांच और उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। मिली जानकारी के अनुसार कोरोना काल के दौरान बंद स्कूलों की पढ़ाई ऑनलाइन के माध्यम से शुरू थी। कुछ ऐसे स्कुल हैं जो फ़ीस न भरने वाले  छात्रों को  व्हाट्सएप ग्रुप से बाहर करने, पिछले सत्र के परीक्षा के अंक जारी न करने, देर से भुगतान करने वाले छात्रों से जुर्माना वसूल कर रही है। ऐसी शिकायत सामने आने के बाद शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने उन स्कूलों के संबंधित शिक्षा अधिकारी को तत्काल जांच का आदेश दिया है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि कोरोना काल के दौरान बंद स्कूल अगर छात्रों से जबरन फ़ीस वसूली करता है तो उस स्कुल और शिक्षा संस्थान के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। बतादें कि स्कूल की फीस वृद्धि को लेकर हॉल में एक बैठक आयोजित की गई थी बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव, शिक्षा आयुक्त, सचिव, कानून और न्याय विभाग, संयुक्त सचिव, कानून (स्कूल शिक्षा) और अभिभावक संघ के पदाधिकारी श्री जयंत जैन, प्रसाद तुलस्कर सुनील चौधरी, श्रीमती जयश्री देशपांडे, श्रीमती शिक्षा विभाग के सलाहकार  अरविंद तिवारी मौजूद थे। बैठक में स्कूल फीस से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की गई।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget