राज्य बढ़ाएं RT-PCR टेस्टिंग की रफ्तार

  बढ़ते मामलों के बीच केंद्र ने दी सलाह


नई दिल्ली

कोरोना वायरस मामलों में लगातार बढ़त का सामना कर रहे राज्यों को केंद्र सरकार ने RT-PCR टेस्टिंग बढ़ाने की सलाह दी है। साथ ही सरकार ने राज्यों को लिखे पत्र में नियमित रूप से म्यूटेंट स्ट्रेन्स पर भी निगरानी रखने की बात कही है। बीते कुछ दिनों से देश में एक्टिव मामले बढ़ने लगे हैं। पूरे देश के मुकाबले महाराष्ट्र और केरल में हालात ज्यादा बिगड़ते नजर आ रहे हैं। महाराष्ट्र सरकार राज्य में जल्द ही नाइट कर्फ्यू पर फैसला ले सकती है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा 'देश में 74 फीसदी से ज्यादा एक्टिव मामले केरल और महाराष्ट्र में हैं।' साथ ही मंत्रालय ने जानकारी दी है कि छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, पंजाब और जम्मू-कश्मीर में भी नए मामलों में इजाफा देखा जा रहा है। बीते चार हफ्तों में केरल में साप्ताहिक औसतन मामले 42 हजार और 34 हजार 800 के बीच घटे-बढ़े हैं। वहीं, राज्य में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 13.9 प्रतिशत से 8.9 फीसदी के बीच रहा।

केरल में अलप्पुझा जिले ने सबसे ज्यादा चिंता बढ़ाई है। यहां साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 10.7 फीसदी पर हो गया है। वहीं महाराष्ट्र में यह आंकड़ा 4.7 फीसदी से लेकर 8 प्रतिशत तक रहा है। महाराष्ट्र में मुंबई उपनगरीय इलाकों की हालत खराब है। यहां साप्ताहिक मामलों में 19 फीसदी तक का इजाफा हुआ है। इसके अलावा साप्ताहिक मामले नागपुर में 33, अमरावती में 47, नाशिक में 23, अकोला में 55 और यवतमाल में 48 फीसदी बढ़ गए हैं।

पांच राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट राष्ट्रीय औसत 1.79 फीसदी से ज्यादा है। महाराष्ट्र में यह आंकड़ा 8.10 प्रतिशत पर है। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget