सचिन वझे पर ATS के सवालों की बारिश

sachin vaze

मुंबई

मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक से भरी मिली कार के मालिक मनसुख हिरेन की संदिग्ध हालत में हुई मौत के मामले में ATS ने गुरुवार को सचिन वझे का बयान दर्ज किया । ATS ने वझे से लगभग 10 घंटे तक पूछताछ की और उनका बयान दर्ज किया। सचिन वझे पर कार मालिक मनसुख हिरेन की संदिग्ध मौत में नाम आने के बाद ये पूछताछ की गई। राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को विधानसभा में बताया था कि सचिन वझे को क्राइम ब्रांच से हटा दिया गया है।  विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी हिरेन की मौत पर सवाल उठा चुके हैं। ATS ने इस मामले में IPC की धारा 302 और 120 B के तहत मामला दर्ज किया है। माना जा रहा है कि मनसुख हिरेन की पत्नी के आरोप और विपक्ष के दबाव के कारण सरकार को यह कदम उठाना पड़ा। इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) कर रही है। इसके लिए मंगलवार को एक टीम मुंबई पहुंची। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, टीम उस इनोवा की जांच के नतीजे के काफी करीब पहुंच चुकी है, जो स्कॉर्पियो के पीछे दो बार नजर आई थी।

एंटीलिया पहुंची टीम

एक टीम एंटीलिया पहुंची और वहां के सुरक्षाकर्मियों और सुरक्षा अधिकारी से पूछताछ की। टीम ने वहां से CCTV फुटेज की कॉपी भी अपने कब्जे में ली है। NIA की टीम के साथ गामदेवी पुलिस स्टेशन के कुछ अधिकारी और DCP राजीव जैन भी साथ में थे। DCP जैन ने ही केस से जुड़ी सारी डिटेल NIA टीम को बताई है।

 इसके बाद NIA के अधिकारी मुंबई पुलिस हेडक्वार्टर पहुंचे और जॉइंट पुलिस कमिश्नर (क्राइम) मिलिंद भारंबे से मुलाकात की। इसके बाद सभी मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह से भी मिले।

तिहाड़ जेल पहुंची दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की टीम

दिल्ली की तिहाड़ जेल से जुड़ने के बाद दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की एक टीम इस मामले की जांच के लिए गुरुवार को तिहाड़ जेल पहुंची।

स्पेशल सेल के अधिकारियों ने तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल से मुलाकात कर इस मामले में कुछ जानकारी हासिल की। इस संबंध में तिहाड़ जेल के डीजी का कहना है कि यह जांच का विषय है, इसलिए वह इस बारे में अभी कुछ अधिक जानकारी नहीं दे सकते।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget