शरजील के मुद्दे पर भाजपा आक्रामक

सत्ता के लिए कितने लोगों को बचाएंगे सीएम: फड़नवीस  

fadanvis

मुंबई

पुणे में हुई एल्गार परिषद में हिंदू समाज को लेकर आपत्तिजनक बयान देने वाल शरजील उस्मानी के मुद्दे पर भाजपा ने एक बार फिर से आक्रामक रुख दिखाया है। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस ने इस मामले पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि वे आखिर सत्ता के लिए कितनों को बचाएंगे। वहीं भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने भी आरोप लगाया कि शरजील उस्मानी को महाविकास आघाड़ी सरकार अपनी छत्रछाया में लेकर स्पेशल ट्रीटमेंट दे रही है।

इस संदर्भ में विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने एक ट्वीट में कहा कि हमारे मुख्यमंत्री ने विधानसभा में छाती ठोंककर कहा था कि शरजील उस्मानी दुनिया में कहीं भी छुपा हो उसे पकड़ कर लाएंगे पर शरजील महाराष्ट्र आकर चला गया और वे कुछ नहीं कर सके। फड़नवीस ने कहा कि शरजील पुणे पुलिस के सामने पेश होकर अपना जवाब दर्ज करा कर चला गया, लेकिन महाविकास आघाड़ी सरकार कुछ नहीं कर सकी।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मूल शिकायत में भारतीय दंड संहिता की धारा 295 ए शामिल थी, लेकिन जानबूझ कर इसे एफआईआर से निकाल दिया गया, जबकि शरजील के खिलाफ दर्ज एफआईआर में 295 ए और 153 धारा होनी चाहिए थी। न्याय व्यवस्था व सरकार के खिलाफ युद्ध की अपील के लिए 124 ए धारा भी लगनी चाहिए थी। फड़नवीस ने कहा कि उद्धवजी आखिर सत्ता के लिए कितनों को बचाएंगे। गौरतलब है कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी ने पुणे में आयोजित एल्गार परिषद में हिंदू धर्म को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उसके बाद भाजपा की तरफ से उसके खिलाफ पुणे में एफआईआर दर्ज कराई गई थी।

इस मामले पर भाजपा के मुख्य प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने आरोप लगाया कि एल्गार परिषद में हिंदू सड़ा हुआ है, जैसा आपत्तिजनक बयान देने वाले शरजील उस्मानी को महाविकास आघाड़ी सरकार विशेष महत्व दे रही है। उन्होंने कहा कि शरजील उस्मानी का बयान बेहद गंभीर है और उसके खिलाफ कड़ी धाराओं में केस क्यों नहीं बनाया जा रहा है?


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget