वन भूमि के झोपड़ाधारकों को मिलेगा घर

मुंबई

पिछले कई वर्षों से संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान (नेशनलपार्क) के वन विभाग की भूमि पर बसे हजारों झुग्गी निवासियों के लिए घर देने का निर्णय सरकार ने लिया है। मागाठाणे क्षेत्र में केतकी पाड़ा, धाकडी दहिसर (पूर्व), दामुनगर, भीमनगर, गौतम नगर, आंबेडकर नगर, जानुपाड़ा, पांडेय कंपाउंड, कांदिवली (पूर्व) के वैभवनगर में लगभग 40,000 झुग्गियां हैं। शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे द्वारा एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया, ताकि इस क्षेत्र के 10 किलोमीटर क्षेत्र में चल रही पुनर्वसन योजना में लोगों को उनके हक का घर दिया जा सके। उन्होंने इस संबंध में एक विशेष नीति तैयार करने के ठोस निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

स्थानीय शिवसेना विधायक प्रकाश सुर्वे पिछले छह वर्षों से लगातार प्रयास कर रहे थे कि इन लोगों का पुनर्वसन किया जाए। नतीजतन इस परिसर के हजारों झुग्गीवासियों को कई वर्षों के बाद बड़ी राहत मिली है। विधायक सुर्वे ने बताया कि इस एक्सचेंज में डेवलपर्स को अतिरिक्त कारपेट एरिया देने का फैसला किया गया है। मंत्री एकनाथ शिंदे ने विकास योजना-2011 में योग्य मलिन बस्तियों को सूचीबद्ध कर, उनका पुनर्वास करने का निर्देश दिया था। इस संबंध में एक महत्वपूर्ण बैठक एकनाथ शिंदे के कार्यालय में आयोजित की गई। बैठक में आवास मंत्री जितेंद्र आह्वाड, शहरी विकास राज्य मंत्री दत्तात्रेय भैरन, शिवसेना विधायक सुनील प्रभु, विधायक प्रकाश सुर्वे, वन विभाग के अतिरिक्त सचिव मिलिंद म्हैसकर, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव भूषण गगराणी, मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल, कलेक्टर सिटी और उपनगर, एसआरए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, मनपा उपायुक्त विश्वास शंकरवार आदि उपस्थित 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget