आल इंग्लैंड चैम्पियनशिप खिताब जीतने के इरादे से उतरेगी सिंधु


बर्मिंघम

विश्व चैम्पियन पीवी सिंधु स्विस ओपन फाइनल में मिली हार को भुलाकर बुधवार से यहां शुरू हो रही आल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप में सितारों की गैर मौजूदगी का फायदा उठाकर खिताब जीतने की कोशिश करेंगी। सिंधु को स्विस ओपन फाइनल में स्पेन की कैरालिना मारिन ने एकतरफा मुकाबले में हराया था। तीन बार की विश्व चैम्पियन मारिन ने चोट के कारण इस टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया है। चीन, कोरिया और चीनी ताइपै के खिलाड़ी भी इस सुपर 1000 टूर्नामेंट में नहीं खेलेंगे जो तोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन दौर का हिस्सा नहीं है। इससे टूर्नामेंट कुछ बेरौनक हो गया है, लेकिन इससे भारत के 19 सदस्यीय दल को बेहतर प्रदर्शन करने का मौका मिला है। भारत के लिए प्रकाश पादुकोण (1980) और पुलेला गोपीचंद (2001) के अलावा यहां कोई खिताब नहीं जीत सका है। दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी सायना नेहवाल 2015 में उपविजेता रही थी। सिंधु यहां 2018 में सेमीफाइनल तक पहुंची लेकिन उनके अलावा कोई और भारतीय आगे नहीं बढ़ सका। ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधु एक बार फिर खिताब की प्रबल दावेदार होगी, लेकिन सायना अपने सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं है। वह पिछले दो साल में सिर्फ दो बार क्वार्टर फाइनल तक ही पहुंच सकीं। 

अन्य भारतीयों में दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत और युगल वर्ग में सात्विक साइराज रांकिरेड्डी तथा चिराग शेट्टी ने स्विस ओपन में अच्छा प्रदर्शन किया और वे इस लय को कायम रखना चाहेंगे। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget