विधानसभा में चले लात-घूंसों पर गरमाई सियासत

पटना

बिहार विधानसभा में मंगलवार को जमकर लात-घूंसे चले। पुलिस ने बल प्रयोग कर विपक्ष के विधायकों  को सदन से खींच-खींचकर बाहर निकाला। सत्‍ता पक्ष इसके लिए विपक्ष को जिम्‍मेदार बता रहा है तो विपक्ष सत्‍ता पक्ष पर आरोप लगा रहा है। कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि विपक्ष मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से नहीं डरता है। उधर, आरजेडी नेता तेजस्‍वी यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार विपक्षी विधायकों की हत्‍या करा सकते हैं। उधर, जनता दल यूनाइटेड ने कहा है कि घटना से आरजेडी ने लालू प्रसाद यादव का संस्‍कार दिखाया है।

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि बिहार विधानसभा की शर्मनाक घटना से स्‍पष्‍ट हो गया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पूरी तरह राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ व भारतीय जनता पार्टी के रंग में रंग चुके हैं। उन्‍होंने आगे लिखा है कि लोकतंत्र का चीरहरण करने वालों को सरकार कहेे जाने का कोई अधिकार नहीं है। जहां तक विपक्ष की बात है, वह डरता नहीं है। विपक्ष जनहित में आवाज बुलंद करता रहेगा।

कांग्रेस के वरीय नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि प्रजातंत्र के मंदिर विधानसभा में लोकतंत्र शर्मसार हुआ। बिहार सशस्‍त्र पुलिस बिल के तहत किसी भी को गिरफ्तार किया जा सकता है। यह तानाशाही भरा कदम है।

आरजेडी नेता व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने नीतीश कुमार को निशाने पर लेते हुए अपने ट्वीट में कहा कि उनकी तानाशाही और उनके अत्याचार का हिसाब जनता करेगी। आंदोलन में बहा लहू का एक-एक कतरा इंसाफ करेगा। एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने लिखा कि आरजेडी विधायकों को लोकतंत्र के मंदिर में सादे कपड़ों में मौजूद गुंडा सरकार के नरभक्षी शासकों के गुंडों ने बुरी तरह पीटा। उन्हें स्ट्रेचर पर एम्बुलेंस से अस्‍पताल ले जाना पड़ा। घायल विधायक कह रहे हैं कि जालिम नीतीश हत्या करवा देंगे। वैसे भी उनको हत्या करने-कराने का पुराना अनुभव है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget