सैनिकों को मिलेगी अचूक मशीन गन

नई दिल्ली

वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन और एलओसी पर पाकिस्तान के साथ माहौल भले ही आजकल शांत हो, लेकिन ये दोनों देश ऐसे हैं जिन पर ज्यादा दिनों तक भरोसा नहीं किया जा सकता। भारत अपने पड़ोसियों के साथ बेहतर रिश्ते चाहता है, लेकिन अपने ऊपर किसी तरह के बाहरी खतरे की कीमत पर नहीं। यही कारण है कि चीन और पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए एलएसी और एलओसी पर सैनिकों को नए हथियार दिए जा रहे हैं।

पहले सैनिकों को अमेरिका की बनी असॉल्ट रायफल सिगसौर दी गई तो अब इजरायल की बनी लाइट मशीन गन नेगेव NG-7 देने की तैयारी है। सेना के सूत्रों की मानें तो इस महीने के आखिर तक इन लाइट मशीन गन की डेप्लॉयमेंट शुरू हो सकती है। 6000 मशीन गन की पहली खेप भारत में आ भी चुकी है।

जनवरी के पहले हफ्ते में ही मुंबई में इसकी पहली खेप आते ही इन्हें सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो जबलपुर भेजा गया। सेना के सूत्रों की मानें तो इस गन का फील्ड ट्रायल अपने अंतिम चरण पर है और जल्द इसे नॉर्दर्न, ईस्टर्न और वेस्टर्न फ्रंट पर तैनात सैनिकों को सौंपा जाएगा। इस मशीन गन का सौदा 19 मार्च 2020 को इजरायल की कंपनी से हुआ था। कुल 16476 गन की खरीद का करार हुआ था। जिनमें से 6000 गन सेना को मिल चुकी हैं। मार्च 2022 तक बाकी गन भारत को मिल जाएगी।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget