आक्रामक रवैया रहेगा जारी : बेयरस्टो

johny bairstow

पुणे

भारत के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय मैच में 337 रन के लक्ष्य को महज 43.3 ओवर में हासिल करने वाले इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने कहा कि रविवार को खेले जाने वाले श्रृंखला के तीसरे और निर्णायक मुकाबले में भी उनकी टीम का आक्रामक और निडर रवैया जारी रहेगा। श्रृंखला के पहले मैच में 66 गेंद 94 रन की पारी खेलने वाले इस सलामी बल्लेबाज ने शुक्रवार को 112 गेंद में 124 रन बनाकर इंग्लैंड की जीत की नींव रखी। उनकी टीम ने इस दौरान 20 छक्के लगाये। बेयरस्टो ने दूसरे एकदिवसीय में जीत से श्रृंखला के 1-1 से बराबर होने के बाद कहा, ‘सच कहूं, तो मुझे लगता है कि यह अपने आप हो रहा है। टीम में ऐसी कोई बातचीत नहीं हुई है कि हमें अधिक छक्के लगाने चाहिए।’ इस मैच में बेयरस्टो ने सात छक्के लगाये, जबकि तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आये बेन स्टोक्स ने 99 रन पर आउट होने से पहले 10 छक्के लगाये। सलामी बल्लेबाज जैसन रॉय (55) और पदार्पण कर रहे लियाम लिविंगस्टोन (नाबाद 27) ने भी भारतीय गेंदबाजों को नहीं बख्शा जिससे उनके खिलाफ 20 छक्के लगे। भारत के खिलाफ इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने 2015 में इतने ही छक्के लगाये थे। बेयरस्टो ने कहा, ‘अगर आप पूरी दुनिया में खेल के तरीके को देखेंगे तो, चाहे वह टी-20 हो या 50 ओवर प्रारूप, आम तौर पर अधिक बाउंड्री लगाने वाली टीमें मैच जीतती हैं।’ उन्होंने कहा, ‘आप अगर चौके की जगह छक्के लगा रहे हैं तो यह आंकड़ा और बढ़ जाता है।’ उन्होंने कहा, ‘इस मैच में 20 (छक्के) लगे, एक मैच के लिए यह असाधारण संख्या है। अगर हम ऐसे ही बाउंड्री लगाना जारी रखते है तो गेंदबाजों को दबाव में रख सकते है, उन्हें पता होगा कि थोड़ी सी चूक होने पर भी छक्का लग सकता है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं चाहूंगा कि एकदिवसीय में इंग्लैंड के लिए सबसे अधिक शतकीय पारी खेलूं। मैंने 11 बार ऐसा किया है। मुझे लगता है कि मैंने 56-57 बार पारी का आगाज किया है तो ऐसे में इन आंकड़ो से खुश हूं।’


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget