मरीजों को बेड की कमी नहीं होने देंगे

अस्पताल में अभी भी तीन हजार बेड खाली


मुंबई 

मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने कहा कि मुंबई में मरीजों के बढ़ते आकंड़ों को ध्यान में रखते हुए निजी अस्पतालों सहित जंबो कोविड सेंटर में बेडो की संख्या बढ़ाई जा रही है। 

आयुक्त ने कहा कि आने वाले दिनों में जरूरत के अनुसार कोरोना मरीजों के लिए 20 हजार बेडों की उपलब्धता कराई जाएगी। अभी मुंबई में कुल कोरोना मरीजों के लिए 13 हजार बेड उपलब्ध हैं। इन बेडों को जरूरत के अनुसार बढ़ाया जाएगा। उन्होंने ने कहा कि अभी भी अस्पताल में तीन हजार बेड खाली पड़े हैं, जिनमे 450 आईसीयू भी हैं।

चहल ने कहा कि छोटे अस्पताल में दो हजार 269 बेड मनपा अपने कब्जे में वापस ले रही है, जिसमें 360 आईसीयू बेड हैं। इसी तरह निजी बड़े अस्पतालों जिनकी संख्या 35 के करीब है, इनमें चार हजार 800 बेड कोरोना मरीजों के लिए उपलब्ध थे, कोरोना मरीजों की संख्या घटने पर उन्हें अन्य इलाज के लिए दे दिया गया था, उन्हें  मनपा एक बार फिर कोरोना मरीजों के लिए वापस ले लिया है। निजी अस्पतालों में अब सात हजार बेड कोरोना मरीजों के लिए उपलब्ध होंगे ।

अभी नहीं सुधरे तो लॉकडाउन : चहल 

मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने मुंबई की जनता को आगाह करते हुए कहा कि जिस तरह कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। नाइट कर्फ्यू तो लग गया है, अभी भी समय है सुधर गए तो ठीक नहीं तो लाॅकडाउन लगाना पड़ेगा। मनपा आयुक्त ने पन्द्रह दिन का समय दिया है। पन्द्रह दिन के लिए नाइट कर्फ्यू लगाया गया है, इस दौरान कोरोना मरीजों की संख्या नहीं घटी तो लाॅकडाउन लगाने पर मजबूर होना पड़ेगा। मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल मंगलवार को बीकेसी जंबो कोविड सेंटर में कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लिया। इस दौरान मनपा आयुक्त मीडिया से बात करते हुए कहा कि पिछले कुछ दिनों से मरीजों की संख्या में भारी बढोत्तरी हो रही है। राज्य सरकार ने भीड़-भाड़ कम करने के लिए होटल, दुकानें, मॉल एवं सिनेमाघरों को रात आठ के बाद बंद करने का निर्णय लिया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget