उत्तराखंड में तीरथ सरकार

बोले- 'RSS से मिली है ट्रेनिंग, सबको साथ लेकर चलूंगा'

tirath rawat

देहरादून

उत्‍तराखंड में पिछले चार दिनों से जारी राजनीतिक गहमागहमी के बाद बुधवार को भाजपा सांसद तीरथ सिंह रावत राज्‍य के 10वें मुख्‍यमंत्री बन गए। शाम 4 बजे राजभवन में आयोजित समारोह में राज्‍यपाल बेबी रानी मौर्य ने उन्‍हें सीएम पद की शपथ दिलाई। इससे पहले विधायक दल की बैठक में सभी विधायकों ने तीरथ सिंह रावत को सर्वसम्‍मति से अपना नेता चुना। शपथ ग्रहण समारोह में सरकार के मंत्री समेत अनेक बड़े नेता उपस्थित रहे। उत्‍तराखंड में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में रावत को सिर्फ एक साल का कार्यकाल मिलेगा।

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम पद का शपथ लेने के बाद तीरथ सिंह रावत को बधाई दी है। उन्‍होंने ट्वीट किया- 'उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर बधाई। उनके पास लंबा प्रशासनिक और संगठनात्मक अनुभव है। मुझे विश्वास है कि उनके नेतृत्व में राज्य प्रगति की नई ऊंचाइयों को छूता रहेगा।'

'अटल जी से पाई प्रेरणा, सबको साथ लेकर चलूंगा'

मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा-'मैं सबको साथ लेकर चलूंगा। मैंने आरएसएस में सबको साथ लेकर चलने की ट्रेनिंग पाई है। मैंने पूर्व पीएम अटल जी के साथ कार्यकर्ता के रूप में काम किया। अटल जी ने हमारे साथ जमीन पर बैठकर खाना खाया। ट्रेन में तीसरी श्रेणी में यात्रा की, इससे मुझे प्रेरणा मिली। मेरी सफलता में संघ से प्रेरणा मिली। पत्नी, माता पिता सबका हाथ है।'

'छोटे गांव से आया हूं, सोचा नहीं था सीएम बनूंगा'

इससे पहले विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा था, 'आप लोगों के आशीर्वाद से यहां तक पहुंचा हूं। मैं छोटे से गांव से आया हूं। कभी सोचा नहीं था कि मुख्यमंत्री बनूंगा। आज भी कह सकता हूं कि जो बड़ों ने दायित्व दिया वो मैंने निभाया। आज भी जो जिम्मेदारी दी गई है आपके सहयोग से उसे भी निभाऊंगा। प्रदेश की बेहतरी के लिए काम करूंगा, टीम भावना से आगे बढ़ेंगे। त्रिवेंद जी ने जो प्रदेश का विकास किया है पिछले 10 साल में ऐसा काम नहीं हुआ। हम उसे आगे बढ़ाएंगे।'

पौढ़ी लोकसभा सीट से सांसद हैं रावत

तीरथ सिंह का जन्म 9 अप्रैल 1964 को पौढ़ी गढ़वाल में हुआ था। वर्तमान में वह पौढ़ी लोकसभा सीट से ही सांसद हैं। इससे पहले साल 2012-2017 में चौबट्टाखाल विधानसभा क्षेत्र से विधायक रह चुके हैं। वह भाजपा के राष्ट्रीय सचिव भी हैं। उन्होंने श्रीनगर गढ़वाल के बिरला कॉलेज से समाजशास्त्र में पोस्ट ग्रैजुएट और पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल किया। पढ़ाई पूरी करने के बाद वह आरएसएस के साथ बतौर सामाजिक कार्यकर्ता जुड़ गए।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget