क्वॉड में भारत की भारी गूंज

मॉरिसन ने कहा 'नमस्ते' तो बाइडेन बोलेे- हमारी दोस्ती मजबूत

quad

वॉशिंगटन

एशिया प्रशांत क्षेत्र में आपसी सहयोग को बढ़ाने के लिए बने क्वॉड गठबंधन की पहली समिट में भारत की गूंज सुनाई दी। इस समिट के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भारत की बढ़ती ताकत की तारीफ की। उन्होंने कहा कि क्वॉड हिंद प्रशांत क्षेत्र में सहयोग के लिए अहम कार्यक्षेत्र है। क्वॉड के सदस्य देश कोरोना वायरस वैक्सीन निर्माण के लिए आपसी सहयोग बढ़ाएंगे। वहीं ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन ने अपने भाषण की शुरुआत ही 'नमस्ते' से की। जापान के पीएम योशिहिडे सुगा ने भी कई बार भारत का नाम लेते हुए उसे इंडो पैसिफिक क्षेत्र की बड़ी ताकत बताया।

बाइडेन ने कहा कि अमेरिका इस क्षेत्र में स्थिरता बनाए रखने के लिए आपके और हमारे सभी सहयोगियों के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। यह समूह विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि यह व्यावहारिक समाधान और ठोस परिणामों के लिए समर्पित है।

मॉरिसन ने चीन पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि महान लोकतंत्रों के चार नेताओं के रूप में हमारी साझेदारी शांति, स्थिरता और समृद्धि का प्रतीक है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने इस बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि मैं क्वॉड के इस सकारात्मक दृष्टि को भारत के प्राचीन दर्शन 'वसुधैव कुटुम्बकम' के विस्तार के रूप में देखता हूं। हम पूरी दुनिया को एक परिवार के रूप में मानते हैं। उन्होंने कहा कि हम साझा मूल्यों को आगे बढ़ाते हुए एक निरपेक्ष, स्थिर और समृद्ध इंडो-पैसिफिक की स्थापना करेंगे।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget