बांग्लादेश से बंगाल को साधेंगे मोदी


नई दिल्‍ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के लिए बांग्‍लादेश के दौरे पर जाने वाले हैं। वह आज ढाका के लिए रवाना होंगे। बांग्‍लादेश अपनी आजादी का 50वां साल मना रहा है, इसके अलावा शेख मुजीबुर्रहमान की जयंती है। पीएम इन दोनों से जुड़े कार्यक्रमों में हिस्‍सा लेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी बांग्‍लादेश यात्रा के बारे में गुरुवार को कहा- मैं 26-27 मार्च को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के निमंत्रण पर बांग्लादेश के दौरे पर रहूंगा। मुझे खुशी है कि कोरोना की शुरुआत के बाद मेरी पहली विदेश यात्रा मित्र पड़ोसी देश के साथ होगी, जिसके साथ भारत के गहरे सांस्कृतिक, भाषाई रिश्‍ते रहे हैं।

इसके अलावा पीएम मोदी के कुछ और प्रोग्राम भी हैं, जो इशारा करते हैं कि उनकी नजर बांग्‍लादेश से सटे पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी है। वह ओराकंडी स्थित मतुआ मंदिर जाएंगे। मतुआ समुदाय का पश्चिम बंगाल की लगभग 70 सीटों पर प्रभाव है। 27 मार्च को प्रधानमंत्री मोदी गोपालगंज में मतुआ समुदाय के धर्मगुरु हरिचंद्र ठाकुर की जन्‍मस्‍थली और ओराकंडी में इस समुदाय के तीर्थ स्‍थल पर जाएंगे। ऐसी अटकलें हैं कि मोदी मतुआ समुदाय की नागरिकता को लेकर कुछ घोषणाएं भी कर सकते हैं। 2011 की जनगणना के अनुसार पश्चिम बंगाल में अनुसूचित जाति की आबादी करीब 1.84 करोड़ है और इसमें 50 फीसदी मतुआ संप्रदाय के लोग हैं। करीब 70 सीटों पर उनका प्रभाव है। ऐसे में मोदी के यहां जाने को चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। मोदी ने 2019 में लोकसभा चुनाव के समय पश्चिम बंगाल में प्रचार की शुरुआत करते हुए मतुआ संप्रदाय के 100 साल पुराने मठ में बोरो मां का आशीर्वाद लेने गए थे।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget