पूजा चव्हाण आत्महत्या मामले में नया मोड़

दादी के सनसनीखेज आरोप से हड़कंप

pooja chavan

मुंबई

टिकटॉक स्टार पूजा चव्हाण आत्महत्या के मामले में एक और बड़ी खबर सामने आई है। पूजा चव्हाण की चचेरी दादी (पिता के चचेरे भाई की मां) शांताबाई राठोड ने आरोप लगाया है कि शिवसेना नेता संजय राठोड ने मुंह बंद रखने के लिए पूजा चव्हाण के माता-पिता को पांच करोड़ रुपए दिए हैं। वन मंत्री रहे संजय राठोड ने रविवार को ही इस मामले में नाम सामने आने के बाद मंत्रिपद से इस्तीफ़ा दे दिया है। पूजा चव्हाण की दादी के इस इन आरोपों के बाद जल्द ही संजय राठोड से पुलिस पूछताछ भी कर सकती है। रविवार को शिवसेना नेता संजय राठोड के मंत्रिपद से इस्तीफे को स्वीकारते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि पूजा के माता-पिता इस्तीफा दिए जाने से पहले उनसे मिलने आए थे. मुख्यमंत्री ने उनके लिखे हुए पत्र को भी पढ़ कर सुनाया था. इसमें मुख्यमंत्री से यह विनती की गई थी कि संजय राठोड उनके समाज के प्रतिष्ठित नेता हैं. केवल शक के आधार पर उनकी बलि ना ली जाए.

‘पूजा के मां-बाप के लिए बेटी की कोई कीमत नहीं’

पूजा चव्हाण के माता-पिता की मुख्यमंत्री से हुई इस मुलाकात के बाद शांताबाई राठोड ने आरोप लगाया है कि पैसे लेकर पूजा के माता-पिता मामला रफा-दफा करने की कोशिश कर रहे हैं। शांताबाई ने पूजा के माता-पिता पर यह सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा, ‘पूजा के माता-पिता के लिए बेटी की कोई कीमत नहीं. मैं चचेरी दादी हूं। इसलिए मेरी कोई सुनेगा नहीं। पर उन लोगों ने समाज को भ्रमित किया है, वे मुख्यमंत्री को भी भ्रमित कर रहे हैं। पूजा के माता-पिता झूठ बोल रहे हैं, संजय राठोड ने पांच करोड़ रुपए देकर उनका मुंह बंद किया है।‘

‘संजय राठोड से मिले पैसे जमीन में लगाया’

शांताबाई ने पूजा के माता-पिता की बातों में ना आकर सही दिशा में जांच किए जाने की विनती की। उन्होंने कहा, ‘ संजय राठोड से मिले पैसों को पूजा के माता-पिता ने जमीन में लगा दिया है। इसको लेकर उनके परिवार में आपस में फूट भी हो चुकी है। पूजा के माता-पिता जो बोल रहे हैं, वो उनका कथन नहीं है। उनके मुंह से मिला हुआ पैसा बोल रहा है। मुख्यमंत्री यह ना भूलें. सही जांच करके पूजा को न्याय दिलाएं. ‘  शांताबाई राठोड रविवार को ‘भूमाता ब्रिगेड’ से जुड़ी तृप्ति देसाई के साथ पुणे के वानवडी पुलिस स्टेशन गई थीं। उन्होंने पूजा चव्हाण मृत्यु प्रकरण में केस दर्ज करने की मांग की थी, लेकिन पुलिस ने सिर्फ शिकायत दर्ज की। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget