कोरोनाः लॉकडाउन की चर्चा तेज

10 जिलों में केस, टेंशन में देश


नई दिल्ली 

देश के 10 जिलों में तेजी से कहर मचा रहे कोरोना ने पूरे देश को टेंशन में डाल दिया है। केंद्र सरकार ने कहा है कि संबंधित राज्यों ने पूरे मामले पर लापरवाही बरती तो परिणाम बहुत ही खतरनाक होंगे और लॉकडाउन लगाना पड़ेगा, जिसकी कीमत राष्ट्र को चुकानी पड़ेगी। केंद्र ने जिन 10 जिलों को हॉटस्पॉट बताया है उनमें से आठ महाराष्ट्र से हैं। कोरोना के गढ़ बन रहे इन जिलों में दिल्ली और बेंगलुरु अर्बन भी शामिल है। 

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को बताया कि देश के 10 जिलों में सर्वाधिक कोरोना के एक्टिव केस हैं। इनमें पुणे, मुंबई, नागपुर, ठाणे, नाशिक, औरंगाबाद, बेंगलुरु अर्बन, नांदेड़, दिल्ली और अहमदनगर शामिल हैं। नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि भले ही कुछ ही जिलों में अभी गंभीर स्थिति है, लेकिन पूरे देश में संभावित जोखिम है। वायरस को रोकने और जिंदगियां बचाने के लिए सभी कदम उठाए जाने की आवश्यकता है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देश में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट का औसत 5.65 फीसदी है, जबकि महाराष्ट्र में साप्ताहिक औसत 23%, पंजाब में 8.82%, छत्तीसगढ़ में 8 फीसदी, मध्य प्रदेश में 7.82 फीसदी, तमिलनाडु में 2.04 फीसदी, कर्नाटक में 2.45 फीसदी, गुजरात में 2.2 फीसदी और दिल्ली में 2.04 फीसदी है। भूषण ने कहा, ''हमने इन राज्यों के प्रतिनिधियों से बात की है। उनसे कहा है कि केस बढ़ने पर वे टेस्टिंग क्यों नहीं बढ़ा रहे हैं। टेस्टिंग बढ़ाना जरूरी है और फोकस आरटी-पीसीआर पर हो। अधिक सघन आबादी वाले इलाकों में स्क्रीनिंग के लिए रेपिड एंटीजन टेस्ट का इस्तेमाल हो।''

मुंबई में निजी अस्पतालों के 80% बेड रिजर्व

मुंबई में कोरोना की वजह से बिगड़ते हालात के बीच मुंबई महानगरपालिका ने निजी अस्पतालों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी है। इसके मुताबिक, निजी अस्पतालों को 80% बेड और 100% ICU बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व रखने होंगे। कोरोना के मरीजों को वार्ड वॉर रूम से बेड अलॉट किए जाएंगे। अस्पतालों को मरीज सीधे भर्ती करने से रोक दिया गया है।

महाराष्ट्र सरकार ने ऑक्सीजन के इंडस्ट्रियल उपयोग पर 30 जून तक कटौती करने के आदेश दिए हैं। मनपा के अस्पतालों के साथ ही प्राइवेट अस्पतालों और नर्सिंग होम्स को फिर से कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार रहने को कहा गया है। सभी हॉस्पिटल को अपनी ऑक्सीजन सप्लाई और वेंटिलेटर चेक करने को कहा गया है।

मनपा कमिश्नर इकबाल सिंह चहल की ओर से PPE किट्स, मास्क और VTM किट्स भरपूर संख्या में जमा करने का आदेश दिया गया है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget