खाने से जुड़े आयुर्वेदिक नियम

eating

खुद को फिट एंड फाइन रखने के लिए अच्छी डाइट लेना बेहद जरूरी है। इसके साथ ही सेहतमंद रहने के लिए आयुर्वेद के अनुसार, खाने से जुड़ी कुछ बातों पर खास ध्यान देना चाहिए। इससे इम्यूनिटी बूस्ट होने के साथ पाचन तंत्र मजबूत होता है। वजन कंट्रोल रहकर बीमारियों से बचाव रहता है। तो चलिए जानते हैं आयुर्वेद से जुड़े उन नियमों के बारे में विस्तार से...

कच्चे मसालों को भूनकर और पीसकर करें यूज

कच्चे मसालों को हमेशा भूनकर और पीस कर इस्तेमाल करें। इसके लिए मसालों को तवे पर हल्का सा भून कर उसे मिक्सी में पीसकर स्टोर करें। इससे इम्यूनिटी बढ़ने में मदद मिलेगी। ऐसे में पाचन शक्ति दुरुस्त रहने के साथ बीमारियों से बचाव रहता है।

बिना छाने आटा से बनाएं रोटी

गेंहू का आटा लगभग हर घर में इस्तेमाल होता है। इसमें फाइबर अधिक होता है। इसके अलावा ज्यादा मात्रा में फाइबर आटे के ब्रालाउट हिस्से में पाया जाता है। ऐसे में बिना छाने आटे की बनी रोटी खाना सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। इससे पाचन तंत्र मजबूत होकर शरीर को सभी जरूरी तत्व आसानी से मिलते है। वजन कंट्रोल रहने में भी मदद मिलती है। हां इसके लिए इस बात का ध्यान रखें कि आप जो आटा इस्तेमाल कर रहे है वो साफ हो।

सब्जियों को ज्यादा ना पकाएं

सब्जियों को ज्यादा पकाने से उसमें मौजूद पोषक तत्व खत्म हो जाता है। ऐसे में यह खाने में भले ही स्वाद हो मगर सेहत के लिए फायदेमंद नहीं रहेगी। ऐसे में आयुर्वेद के अनुसार, सब्जियों को हमेशा स्टीम या हाफ बॉयल करके ही खाएं। ऐसा करने से आपको सब्जी के सभी जरूर तत्व मिलेंगे। ऐसे में पाचन तंत्र मजबूत होने के साथ शारीरिक व मानसिक बेहतर विकास होने में मदद मिलेगी।

मीठे से रखें परहेज

अधिक मीठा खाने से वजन बढ़ने के साथ डायबिटीज की समस्या हो सकती है। ऐसे में अधिक मात्रा में मीठा खाने से परहेज रखें। आयुर्वेद के अनुसार, चीनी की जगह शहद या गुड़ का सेवन करना बेस्ट ऑप्शन है। इससे शुगर क्रेविंग दूर होने के साथ बीमारियों से बचाव रहेगा।

ठंडा भोजन करने से बचें

आगर आप ठंडा भोजन खाते हैं तो अपनी इस आदत को बदल लें। आयुर्वेद के अनुसार, ठंडा भोजन पाचन क्रिया को कमजोर करने का काम करता है। ऐसे में पेट दर्द, कब्ज, अपच, एसिडिटी आदि पेट संबंधी परेशानियां हो सकती है। इसके अलावा कभी भी ज्यादा या पूरा पेट भर कर खाने की गलती ना करें। नहीं तो अपच की समस्या हो सकती है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget